दारोगा ने महिला फरियादियों को थाने से भगाया, गाली-गलौज करते हुए दी पिटवाने की धमकी

Baghpat Police Inspector Misbehave: थानों पर आने वाले फरियादियों के साथ पुलिस मर्यादित भाषा का प्रयोग करे, इसका पाठ आए दिन पुलिस अफसर पुलिसकर्मियों को पढ़ाते हैं, लेकिन इन निर्देशों का थानों में कतई पालन नहीं हो रहा है. ऐसा ही उदाहरण बागपत के बालैनी थाने में देखने को मिला है. यहां एक दारोगा ने फरियादी महिलाओं के साथ गाली-गलौज करते हुए ना केवल थाने से भगा दिया बल्कि महिला पुलिस से पिटवाने की धमकी भी दे डाली. पीड़ित महिलाओं ने पूरे मामले की शिकायत एसपी से की है. एएसपी ने मामले को लेकर जांच बैठा दी है.

दारोगा ने महिलाओं को लगाई फटकार 
बागपत के बालैनी थाना क्षेत्र के मवीकलां गांव की रहने वाली महिलाएं और पुरुष सोमवार को थाने पहुंचे. फरियादियों ने पुलिस को बताया कि पड़ोस के कुछ दबंग उनके मकानों के सामने गंदगी फैलाते हैं. विरोध करने पर गाली-गलौज कर जातिसूचक शब्द कहते हैं. इस पर वहां मौजूद एक दारोगा का पारा इतना चढ़ गया कि दारोगा ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाए उल्टा शिकायत करने आई महिलाओं को डांटना शुरू कर दिया. 

एसपी कार्यालय पहुंचे पीड़ित 
दारोगा ने गाली-गलौज करते हुए महिला पुलिसकर्मियों को बुलाकर फट्टे लगवाने की धमकी दी और उनको थाने से भगा दिया. मौके पर मौजूद किसी व्यक्ति ने पुलिस के इस रवैये को मोबाइल में कैद किया और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. उधर, पूरे मामले की शिकायत लेकर पीड़ित एसपी कार्यालय पर पहुंचे. पीड़ितों ने अधिकारी से शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की है. 

की जाएगी कार्रवाई 
मामले को लेकर एसपी मनीष कुमार मिश्र ने बताया कि थाना क्षेत्र बालैनी का प्रकरण सामने आया है. वीडियो वायरल हुआ है जिसमें ये ज्ञात हुआ है ये दो पक्ष थे, जिनका नाली के पानी को लेकर के विवाद था. दोनों पक्षों को कार्रवाई के लिए थाने बुलाया गया था. जिसमें फरियादी से अभद्रता के मामले की जांच सीओ खेकडा को सौंपी गई है. जल्द रिपोर्ट मांगी गई है रिपोर्ट आते ही आवश्यक कार्रवाई की जाएगी. 

ये भी पढ़ें:

Railway Train Timings: कोरोना काल में खत्म हुई ट्रेनों की लेट लतीफी, 93% राइट टाइम

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*