बातों में लगाकर बदल लेते थे एटीएम कार्ड और खातों से रकम गायब, पुलिस ने पकड़ा शातिर गिरोह

Gonda Police: गोंडा पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. यहां अंतर्जनपदीय एटीएम चोर गिरोह का पर्दाफाश किया है, जिसमें गिरोह के सरगना सहित 3 सदस्यों को हिरासत में लिया है. इनके पास से भारी मात्रा में फर्जी एटीएम कार्ड, एटीएम और धोखाधड़ी कर कमाए गए रुपए से खरीदे गए उपकरण एवं अन्य सामान बरामद किया है. पुलिस के अनुसार यह गिरोह गोंडा, बहराइच, बलरामपुर, श्रावस्ती, बस्ती, फैजाबाद, अंबेडकरनगर, बाराबंकी, गोरखपुर, संतकबीरनगर, खलीलाबाद एवं अन्य कई जनपदों में लोगों को बहला-फुसलाकर एटीएम कॉर्ड बदलने का काम करते थे और फिर उसी एटीएम से खरीदारी और नगदी की निकासी करते थे. इस गिरोह के पकड़े जाने के बाद पुलिस का मानना है कि इस तरह के अपराधों में कमी आएगी.

पकड़े गये अपराधियों में गोंडा का हिस्ट्रीशीटर

थाना मनकापुर और साइबर सेल की संयुक्त टीम ने अंतर्जनपदीय एटीएम चोर गिरोह का पर्दाफाश किया है. जिसमें तीन अंतर्जनपदीय शातिर पेशेवर एटीएम चोरों को गिरफ्तार किया है. इनमें से एक का नाम अखिलेश पांडे है जो कि, एक शातिर पेशेवर एटीएम चोर है, जिसके ऊपर मनकापुर में कई मुकदमे दर्ज हैं साथ ही ये एक हिस्ट्रीशीटर भी है और जनपद गोंडा का टॉप टेन अपराधी भी. इनके पास से ठगी किए गए 51000 रुपये, 10 विभिन्न बैंकों के एटीएम कार्ड, तीन ब्लैंक कार्ड, एक कार, दो मोटरसाइकिल, 3 गाड़ियों के नंबर प्लेट, दो देसी तमंचा, 12 बोर दो जिंदा कारतूस, 12 बोर एक देसी रिवाल्वर, .38 दो अदद जिंदा कारतूस बरामद किया है. 

गैंगस्टर एक्ट के तहत होगी कार्रवाई

पुलिस के अनुसार यह लोग एटीएम रूम के आसपास मौजूद रहकर एटीएम का सही इस्तेमाल न कर पाने वाले भोले भाले लोगों पर निगाह रखते थे और जब ऐसे लोग अज्ञानता या नेटवर्क प्रॉब्लम की दिक्कत पर एटीएम के कारण पैसा नहीं निकाल पाते थे तो मदद करने के नाम पर यह बातचीत करते करते एटीएम बदल देते थे. साथ ही उनसे पासवर्ड जान लेते थे, बाद में उसी एटीएम और पासवर्ड की सहायता से पैसा निकाल लेते थे. पुलिस के अनुसार इनके गिरफ्तार होने से ऐसे अपराधों में कमी आएगी. इन सभी गैंग मेंबर्स और गैंग सरगना के ऊपर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई भी की जाएगी.

ये भी पढ़ें.

पुष्कर सिंह धामी के उत्तराखंड का मुख्यमंत्री बनने से चमकी चेतन की किस्मत !

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*