सूर्यास्त के बाद न करें इन चीजों का दान, घर में आ सकती है आर्थिक तंगी

Vastu Tips: हिंदू धर्म में दान का विशेष महत्व होता है. धार्मिक मान्यता है कि दान देने से सभी देवता खुश होते है. इससे दान करने वाले भक्त पर देवी –देवताओं की कृपा बरसती है. उन्हें सभी कष्टों से मुक्ति मिल जाती है, उनके सभी पाप नष्ट हो जाते हैं. घर परिवार में सुख शांति और समृद्धि आती है. परंतु कुछ ऐसी भी चीजें होती हैं जिनका दान करना शुभ नहीं होता है. वास्तु शास्त्र के अनुसार कुछ ऐसी चीजे/ वस्तुएं होती हैं जिनका सूर्यास्त के बाद दान करना बहुत ही अशुभ होता है. इसके साथ ही कुछ चीजें ऐसी भी होती हैं जिनको मंगाकर इस्तेमाल करना बेहद अशुभकारी होता है. आइये जानते हैं कि कौन सी ऐसी चीजें हैं जिनका सूर्यास्त के बाद दान करना अशुभ होता है.  

हल्दी

हल्दी को गुरु का करक माना जाता है. वास्तु शास्त्र के अनुसार सूर्यास्त के बाद अर्थात शाम के समय में हल्दी का दान नहीं किया जाता है. यदि कोई शाम को हल्दी मांगने भी आये तो नहीं देना चाहिए. मान्यता है कि ऐसा करने से घर में बरकत नहीं होती है. कहा जाता है कि सूर्यास्त के बाद जो भी दिया है उस चीज में बरकत नहीं होती है.

दूध

दूध का सीधा संबंध चंद्रमा से होता है तथा इसको माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु का कारक माना जाता है. सूर्यास्त के बाद दूध का दान देने से घर में धन की कमी होती है.

दही

दही को शुक्र का कारक माना जाता है. वास्तु के अनुसार इससे घर में सुख और समृद्धि आती है. जब सूर्यास्त के बाद दही का दान किया जाता है घर की सुख- समृद्धि चली जाती है.

Masik Shivratri: इस दिन है आषाढ़ मास की मासिक शिवरात्रि, इस शुभ मुहूर्त में पढ़ें यह व्रत कथा, पूरे होंगे आपके मनोरथ

बासी भोजन दान में देना

किसी भी व्यक्ति को बासी खाना खिलाने से पाप लगता है. घर दरिद्रता का वास होता है. इस लिए सदैव शुद्ध और तजा भोजन ही दान करना चाहिए.

सूर्यास्त के बाद करें पैसे का लेनदेन

वास्तु शास्त्र के अनुसार शाम के समय में किसी से भी पैसे का लेनदेन नहीं करना चाहिए. मान्यता है कि ऐसा करने से माता लक्ष्मी रूठ जाती है. इससे घर में पैसों की दिक्कते शुरू हो जाती है.

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*