रोजाना अंडे खाने से हो सकते हैं खतरनाक साइड-इफेक्ट्स

शरीर के लिए प्रोटीन का सबसे अच्छा और सस्ता स्रोत अंडा है. ये सुपर हेल्दी फूड है जिसे उबालकर या पकाकर इस्तेमाल किया जा सकता है. एक दिन में मात्र दो अंडे खाना रेड ब्लड सेल की गिनती में सुधार कर सकता है और वजन कम करने में मददगार है. आम तौर से अंडा आवश्यक पोषक तत्वों में बहुत धनी है और रोजाना की डाइट में शामिल किया जा सकता है. लेकिन. बहुत सारे अंडे का रोजाना इस्तेमाल आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है. रोजाना अंडे खाने के साइड-इफेट्स और कुछ फायदों को जानना चाहिए. 

अंडे खाने के साइड-इफेक्ट्स

अंडे में साल्मोनेला नामक एक बैक्टीरिया पाया जाता है. ये मुर्गी से आता है. अगर आप अंडों को सही तरीके से नहीं उबालते हैं, तो ये बैक्टीरिया आपके शरीर के अंदर घुस सकता है और आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है. ठीक यही मामला उचित ढंग से अंडे नहीं पकाने पर होता है. उसकी वजह से कई समस्याएं जैसे सूजन, उल्टी, पेट से जुड़े मुद्दे हो सकते हैं. बहुत सारे अंडे खाने के नतीजे में प्रतिकूल प्रभाव भी हो सकता है. प्रोटीन का भरपूर स्रोत होने के कारण, अत्यधिक मात्रा में उसका खाना नकारात्मक तरीके से किडनी को प्रभावित कर सकता है.

बहुत सारे लोगों को अंडे से एलर्जी होती है, इसलिए अंडों के इस्तेमाल से बचा जाना चाहिए. सीमित संख्या में अंडे खाने का कोई साइड-इफेक्ट्स नहीं है. प्रति दिन 1-2 अंडों के इस्तेमाल से कोई प्रतिकूल-प्रभाव का कारण नहीं बन सकता. आपको अंडे के साथ खाई जानेवली सामग्री, उसको किसके साथ जोड़ने पर भी निगरानी रखनी चाहिए. अंडों में पाया जानेवाला फैट और कोलेस्ट्रोल दिल की सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है और डायबिटीज के साथ-साथ प्रोस्टेट और कोलोन या कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा रहता है.

एक दिन में कितना अंडा उपयुक्त है?

हेल्थ लाइन के मुताबिक, एक दिन में तीन अंडों तक खाना स्वास्थ्य फायदे हासिल करने के लिए काफी है. अंडा खाने से ओमेगा-3 फैटी एसिड और प्रोटीन मिलता है. बहुत सारे अंडे खाने के खतरनाक साइड इफेक्ट का अनुभव किए बिना तीन अंडों का इस्तेमाल ठीक है.

डायबिटीज के लिए करेला: जानिए कैसे ये खास चाय ब्लड शुगर लेवल को काबू में रख सकती है

प्रेगनेन्सी में मलेरिया कैसे महिला और बच्चे को करता है प्रभावित? जानिए लक्षण और संकेत

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*