CM ममता का PM पर वार, बोलीं- आपको नहीं लगता मोदी लोगों की जेब काटकर अपना पॉकेट भर रहे हैं

Petrol Diesel Price Hike: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने पेट्रोल और डीज़ल की बढ़ती कीमतों को लेकर एक बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि हफ्ते में चार बार दाम बढ़ते हैं. सीएम ने कहा कि केंद्र लोगों से पेट्रोल और डीज़ल के ज़रिए 3.71 लाख करोड़ कमा चुकी है. सीएम ममता ने सवाल पूछते हुए कहा कि आपको नहीं लगता है कि नरेंद्र मोदी आम लोगों की जेब काटकर अपना पॉकेट भर रहे हैं?  

ममता बनर्जी ने इस दौरान पीएम पर ये कहते हुए भी हमला बोला कि उन्होंने 35 हज़ार करोड़ रुपये कोविड वैक्सीन के लिए रख लिए. उन्होंने आरोप लगाया कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान उन्होंने धीरे धीरे फंड दिया, एक बार में क्यों नहीं दिया? उन्होंने कहा कि हमने 3 करोड़ के लिए कहा, उन्होंने नहीं दिया और 6 महीने में 2 करोड़ दिए. सीएम ममता ने दावा करते हुए कहा कि उन्होंने अपने राज्यों को ज्यादा पैसै दिए और विपक्षी राज्यों को कम दिए. 

हाल ही में ममता ने लिखी पीएम मोदी को चिट्ठी

हाल ही में पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर सीएम ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखी और मांग की कि केंद्र की तरफ से पेट्रोल और डीजल पर जो टैक्स लिया जाता है उसको कम किया जाए. सीएम ममता ने पीएम मोदी से अपील किया कि देश में महंगाई का जो ट्रेंड है उसको देखें.

उन्होंने खत में कहा कि खत में लिखा कि देश के कई राज्यों में पेट्रोल की कीमत सौ के आंकड़े को पार कर चुकी है. 4 मई 2021 के बाद से आपकी सरकार ने आठ बार पेट्रोल और डीजल की कीमतों को बढ़ाया है. जून महीने में छह बार और एक सप्ताह में चार बार कीमतों को बढ़ाया गया है, ये चौंकाने वाला है. इस बढ़ोतरी से आम लोग परेशान हैं.

10 और 11 जुलाई को पूरे राज्य में टीएमसी का प्रदर्शन

आपको बता दें कि तृणमूल कांग्रेस ने 10 और 11 जुलाई को पूरे राज्य में विरोध प्रदर्शन करने का फैसला किया है. मंत्री और टीएमसी के पूर्व महासचिव पार्थ चटर्जी ने एलान किया, “पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर 10 और 11 जुलाई को सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन होगा. सभी कोविड -19 प्रोटोकॉल बनाए रखे जाएंगे.”

Babul Supriyo Resign: आसनसोल से सांसद बाबुल सुप्रियो ने मंत्रिपद से दिया इस्तीफा

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*