मोदी कैबिनेट में सहयोगी दलों का बढ़ा कद, 3 दलों के नेताओं ने ली मंत्री पद की शपथ

PM Modi Cabinet Expansion: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ताजा कैबिनेट विस्तार में सहयोगी दलों को साधने की कोशिश की है. जदयू नेता और बिहार से राज्यसभा सदस्य आर सी पी सिंह, हाजीपुर से लोकसभा सदस्य पशुपति कुमार पारस और अपना दल (एस) की अनुप्रिया पटेल को कैबिनेट में जगह दी गई है. 

इन तीनों नेताओं ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में मंत्री पद की शपथ ली. बता दें कि मोदी कैबिनेट में आज 36 नए मंत्री शामिल किए गए हैं और सात मंत्रियों को प्रमोट किया गया है. कुल 43 मंत्री शपथ ले रहे हैं.

बता दें कि अब तक मंत्री परिषद में सहयोगी दलों के एकमात्र नेता के रूप में रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) के रामदास अठावले थे.

ध्यान रहे कि बिहार में जेडीयू और बीजेपी गठबंधन की सरकार है. जेडीयू कैबिनेट में अधिक सीटों की मांग कर रही थी हालांकि सिर्फ आरसीपी सिंह ही मंत्री बन सके. वहीं एलजेपी और बीजेपी का गठबंधन है. एलजेपी में हाल ही में टूट पड़ गई थी और चिराग पासवान अलग-थलग पड़ गए थे.

पारस को मंत्री बनाए जाने के फैसले पर चिराग पासवान ने एतराज जताया है. उन्होंने कहा, ”पार्टी विरोधी और शीर्ष नेतृत्व को धोखा देने के कारण लोक जनशक्ति पार्टी से श्री पशुपति कुमार पारस जी को पहले ही पार्टी से निष्काषित किया जा चुका है और अब उन्हें केंद्रीय मंत्री मंडल में शामिल करने पर पार्टी कड़ा ऐतराज दर्ज कराती है।”

चिराग पासवान ने कहा, ”प्रधानमंत्री जी के इस अधिकार का पूर्ण सम्मान है कि वे अपनी टीम में किसे शामिल करते हैं और किसे नहीं. लेकिन जहां तक LJP का सवाल है श्री पारस जी हमारे दल के सदस्य नहीं हैं. पार्टी को तोड़ने जैसे कार्यों को देखते हुए उन्हें मंत्री,उनके गुट से बनाया जाए तो LJP का कोई लेना देना नहीं है.”

उत्तर प्रदेश में अगले साल चुनाव होने वाले हैं. ऐसे में मिर्जापुर से सांसद अनुप्रिया पटेल को मंत्री बनाया गया है. पूर्वांचल के दिग्गज कुर्मी नेता सोनेलाल पटेल की बेटी हैं और मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में राज्य मंत्री रह चुकी हैं. 

मोदी सरकार के कैबिनेट विस्तार में दिखी 2022 के विधानसभा चुनाव की झलक, यूपी को सबसे ज्यादा तवज्जो

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*