अखिलेश यादव का आरोप- सीएम योगी के इशारे पर हो रही गुंडागर्दी

Akhilesh Yadav on UP Block Pramukh Chunav 2021: ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान लखीमपुर खीरी में महिला से बदसलूकी समेत अन्य जगह हुई हिंसक घटनाओं को लेकर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सरकार पर निशाना साधा है. अखिलेश यादव ने शुक्रवार को पीड़ित महिला से पार्टी मुख्यालय पर मुलाकात की. उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में बीजेपी के गुंडे सड़कों पर हैं. समाजवादी पार्टी पीड़ित महिला और उनके परिवार साथ है. सपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि सीएम योगी आदित्यनाथ के इशारे पर गुंडागर्दी हो रही है.

सपा दफ्तर पहुंची प्रत्याशी और उसकी महिला प्रस्तावक ने बताया कि वो लोग जब नामांकन के लिए पहुंचे तो वहां बीजेपी सांसद रेखा वर्मा के लोगों ने उनसे बदसलूकी की. उनकी साड़ी खींची, पर्स और मोबाइल छीन लिया. महिला प्रत्याशी ने आरोप लगाया कि उनके कपड़े भी फाड़े गए और पुलिस मूक दर्शक बनी खड़ी रही. सबके सामने सब कुछ हुआ लेकिन कोई पुलिस कर्मी बचाने नहीं आया. पीड़ित महिला प्रत्याशी का आरोप है कि उन्होंने अपना नामांकन तो कर दिया था लेकिन उनका पर्चा भी फाड़ दिया गया.

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि पंचायत चुनाव डीएम-एसएसपी लड़ रहे हैं. भाजपा ने गुंडों को छोड़ दिया है, खुली छूट दी है. भाजपा के लोगों को अंदर बैठाने की सूचना आ रही है. भाजपा के लोग ब्लॉक प्रमुख चुनाव में जिलाध्यक्ष चुनाव से एक कदम आगे निकल गए. एक मां, बहन, बेटी के साथ ऐसा व्यवहार कभी नहीं हुआ. अखिलेश यादव ने कहा कि जिन अधिकारियों ने छूट दी उनका भी समय आने पर हिसाब किताब किया जाएगा. जब घटना हुई तो पूरे प्रदेश के अधिकारियों ने मोबाइल ऑफ किये हुए थे.अधिकारियों, पुलिस ने लोगों को अपमानित किया है. 

सपा उन अधिकारियों की सूची बना रही जो गड़बड़ कर रहे हैं- अखिलेश

अखिलेश ने तंज किया कि जो दूसरों को गुंडा पार्टी कहते थे वो सबसे बड़ी गुंडा पार्टी निकली. पूर्व स्पीकर माता प्रसाद पांडेय के साथ बदसलूकी पर अखिलेश ने कहा कि वो भी अपना पर्चा दाखिल नहीं करा सके. उनको भी अपमानित होना पड़ा. पूरी पार्टी महिला के साथ है. यूपी की जनता बदलाव चाहती. लोकतंत्र बचेगा तभी तो विकास होगा. अगर वोट का अधिकार ही छीन लेंगे तो क्या होगा. सपा उन अधिकारियों की सूची बना रही जो गड़बड़ कर रहे हैं.

स दौरान अखिलेश यादव से मायावती और ओवैसी के बयानों पर भी सवाल किया गया. इस पर अखिलेश ने कहा कि वो मायावती का सम्मान पहले भी करते थे और आज भी करते हैं. इसलिए कुछ नहीं कहेंगे. वहीं ओवैसी के MY फैक्टर वाले बयान पर कहा कि उन्होंने विकास की भी बात की ये अच्छा है.

ये भी पढ़ें.

लखीमपुर: महिला से बदसलूकी मामले में सीएम योगी की बड़ी कार्रवाई, सीओ और थाना प्रभारी सस्पेंड

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*