Bihar Crime: भूमि विवाद में युवक की गोली मारकर हत्या, कत्ल कर भाग रहे शख्स की भी हुई मौत

रोहतास: बिहार के रोहतास जिले के बिक्रमगंज अनुमंडल क्षेत्र के काराकाट में शुक्रवार की शाम जमीन विवाद में चचेरे भाई ने अपने भाई की गोली मारकर हत्या कर दी. हालांकि, हत्या कर भाग रहा हत्यारे भाई की भी संदिग्ध स्थिति में मौत हो गई. घटना काराकाट थाना क्षेत्र के नात बिगहा की है. मृतकों की पहचान राज किशोर तिवारी और लालबाबू तिवारी के रूप में की गई है. दोनों चचेरे भाई हैं.

लंबे समय से चल रहा था विवाद 

मिली जानकारी अनुसार दोनों भाइयों के बीच सालों से जमीन के लिए झगड़ा चल रहा था. इसी विवाद में शुक्रवार को लालबाबू तिवारी के बेटे मनोज तिवारी ने अपने चाचा राज किशोर तिवारी के बेटे धर्मेंद्र तिवारी की गोली मारकर हत्या कर दी. बताया जाता है कि हत्या कर भागने के क्रम में संदिग्ध स्थिति में मनोज तिवारी की भी मौत हो गई.

घटना की जांच में जुटी पुलिस

स्थानीय लोगों का कहना है कि इस परिवार के पास ढोढनडिह और नाथ बिगहा में कुल ढाई सौ बीघा जमीन है. इसी के बंटवारे और खेती को लेकर हमेशा विवाद रहता है. इसी विवाद में वारदात को अंजाम दिया गया है. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए सासाराम सदर अस्पताल भेज दिया है. वारदात के बाद इलाके में सनसनी फैल गई है. परिवार में कोहराम मचा हुआ है. 

अपने ही चचेरे भाई की हत्या के बाद मनोज तिवारी की जिस तरह से मौत हो गई, यह भी चर्चा का विषय बना हुआ है. बताया जाता है कि पहले भी दोनों परिवार के बीच जमीन के झगड़े को लेकर कोर्ट कचहरी हो चुकी थी.

काराकाट थाना अध्यक्ष ने कही ये बात

घटना के संबंध में काराकाट थानाध्यक्ष अनिल कुमार ने बताया कि जमीन के पुरानी विवाद में चचेरे भाई की गोली मारकर हत्या कर दी गई. बाद में हत्यारे भाई की भी संदिग्ध स्थिति में मौत हो गई. शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. मामले की जांच की जा रही है.

यह भी पढ़ें –

बिहार: बड़ी मां का ‘आशीर्वाद’ लेने पहुंचे चिराग पासवान, पैतृक गांव पहुंच कर हुए भावुक, रोक नहीं पाए आंसू

Bihar Politics: ओसामा से मिलने पहुंचे पूर्व मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी, जगदानंद के संबंध में कही ये बात

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*