सियासी उथल-पुथल के बीच उपेंद्र कुशवाहा ने शुरू की ‘बिहार यात्रा’, कहा- JDU बनेगी नंबर वन पार्टी

बगहा: कोरोना महामारी के बीच जेडीयू एमएलसी उपेंद्र कुशवाहा ने शनिवार से बिहार यात्रा की शुरुआत कर दी है. यात्रा की शरुआत उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ही तरह बिहार के पश्चिमी चंपारण के वाल्मीकिनगर से की है. जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह के केंद्रीय कैबिनेट में शामिल होने के बाद से पार्टी के संसदीय बोर्ड अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं. कैबिनेट विस्तार के बाद जिस तरह से जेडीयू में खींचतान जारी है. उसे देखते हुए उपेंद्र कुशवाहा पर सबकी नजर टिकी हुई है.

मुख्यमंत्री ने दिया ये निर्देश 

सूत्रों की मानें बिहार के मुखिया नीतीश कुमार ने सभी जिलों के साथियों को निर्देशित किया है कि वे यात्रा के दौरान उपेन्द्र कुशवाहा का पूरा समर्थन करें. ताकि जेडीयू को फिर से बिहार की नंबर वन पार्टी बनाया जा सके. मालूम हो कि राजनीतिक गलियारे में लगातार चर्चा हो रही है कि उपेंद्र कुशवाहा को अब जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जा सकता है. 

इस नियम की वजह से हो सकता है बदलाव 

दरअसल, पार्टी एक व्यक्ति, एक पद के सिद्धांत पर चलती है. ऐसे में आरसीपी सिंह जो हाल ही में केंद्र में मंत्री बनाए गए हैं, वो दो पदों पर आसीन हैं. ऐसे में नेतृत्व में बदलाव होने की संभावना है. हालांकि, खुद कुशवाहा और पार्टी के दूसरे नेता इस बात को खारिज कर रहे हैं. इन्हीं संभावनाओं के बीच कुशवाहा शनिवार से बिहार यात्रा पर निकले हैं. 

यात्रा की शुरुआत के दौरान उन्होंने पत्रकारों से बातचीत की. इस दौरान उन्होंने कहा कि जेडीयू बिहार में फिर से सबसे बड़ी पार्टी बनेगी. आरजेडी और कांग्रेस दरक रही है. कांग्रेस और आरजेडी में भी अंदरूनी कलह है. ये हमारे लिए शुभ है. सभी लोग संपर्क में हैं. लेकिन उनके यहां जो गड़बड़ी है, उसमें हमलोग नहीं है. आरजेडी में वरिष्ठ नेताओं को बेइज्जत किया जा रहा है. ऐसे में पार्टी का टूटना निश्चित है. कांग्रेस भी किसी तरह चल रही है. ये पूरी जनता देख रही है. वो पार्टी तोड़ने का आरोप हमारे ऊपर लगाते हैं, जो गलत है. पर अगर कोई हममें जुड़ना चाहता है, तो हम इस पर विचार कर सकते हैं.

जगदानंद सिंह के इस्तीफे की खबर को तेज प्रताप यादव ने बताया गलत, कहा- ‘मुझसे क्यूं होंगे नाराज’ 

बिहार: पुलिसकर्मियों का ड्यूटी के दौरान फुल यूनिफॉर्म में रहना अनिवार्य, कोताही बरतने पर होगी कार्रवाई

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*