पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बोले- वैक्सीन के मामले में हमारे साथ हो रहा भेदभाव, केंद्र सरकार करे

चंडीगढ़: पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने आरोप लगाया कि वैक्सीन के मामले में राज्य के साथ भेदभाव हो रहा है. उन्होंने कहा कि दूसरे राज्यों के पास 17 लाख वैक्सीन आती है लेकिन पंजाब को 50-60 हजार की किस्तों में वैक्सीन मिलती है. उन्होंने केंद्र से अपील की कि पंजाब को भी उचित वैक्सीन मिले ताकि लोगों का जल्द से जल्द टीकाकरण हो सकते.

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, “वैक्सीन के मामले में हमारे साथ थोड़ा भेदभाव हो रहा है, अन्य राज्यों के पास 17 लाख वैक्सीन आती है लेकिन हमारे पास 50,000-60,000 की किस्तों में आता है. हम चाहते हैं कि केंद्र हमारे साथ भी पूरा इंसाफ करें ताकि हम राज्य के लोगों को जल्दी वैक्सीन लगा सकें.”

इससे पहले पंजाब में कोरोना वायरस टीका कोविशील्ड के खत्म होने और कोवैक्सीन का भंडार सिर्फ एक दिन का बचने के बीच मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार को केंद्र से इनकी आपूर्ति बढ़ाने की आवश्यकता पर बल दिया. मुख्यमंत्री कार्यालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. राज्य में कोविड टीकों की आपूर्ति में वृद्धि इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यहां शुक्रवार को वीकेंड और रात का कर्फ्यू हटा लिया गया और कॉलेज, सिनेमा हॉल, मॉल, रेस्तरां, बार और जिम उन लोगों के लिए फिर से खोलने की अनुमति दी, जिन्होंने वैक्सीन की कम से कम एक खुराक ली है.

मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, “राज्य में कोविशिल्ड के समाप्त होने और कोवैक्सीन का भंडार सिर्फ एक दिन का होने के बीच, मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने फिर से केंद्र से टीकों की आपूर्ति में वृद्धि की आवश्यकता पर जोर दिया.”

मुख्यमंत्री ने कोविड संबंधी एक समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे राज्य के लिए टीकों का कोटा बढ़ाने के लिए केंद्र के साथ काम करते रहें. सीएम ने कहा कि पंजाब में पहले ही लगभग 83 लाख पात्र लोगों (लगभग 27 प्रतिशत आबादी) को टीका लगाया गया है. 70 लाख लोगों को पहली खुराक, 13 लाख लोगों को दूसरी खुराक लगायी गयी है.

दिल्ली में आज कोरोना से गई एक शख्स की जान, संक्रमण दर 0.09 फीसदी, सामने आए 76 नए केस

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*