कहीं आप नकली हींग तो इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं? इस तरह करें हींग में मिलावट की पहचान

खाना बनाने में ज्‍यादातर घरों में हींग (Hing) का इस्‍तेमाल किया जाता है. सब्जी में अगर हींग वाला तड़का लगा दिया जाए तो स्वाद और भी बढ़ जाता है. कुछ सब्जियों, दाल और रायते में हींग का फ्लेवर बहुत अच्छा लगता है. भोजन का स्‍वाद बढ़ाने के अलावा हींग स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है. हींग खाने से कई बीमारियां दूर रहती हैं. लेकिन मार्केट में मिलने वाली हींग में कई बार मिलावट भी पाई जाती है. कुछ लोग हींग में आटा और केमिकल भी मिला देते हैं. ऐसे में ये पहचानना बहुत जरूरी है कि आप जो हींग इस्तेमाल करते हैं वो कहीं मिलावटी तो नहीं है. नकली हींग खाने से आपको कई तरह के नुकसान भी हो सकते हैं. ऐसे में हींग फायदे की जगह आपको नुकसान पहुंचा सकती है. आज हम आपको असली हींग  (Real Asafoetida) और नकली हींग में पहचान करना बता रहे हैं. आइये जानते हैं.  

कैसे करें हींग की असली-नकली पहचान ?
1- सबसे पहली पहचान कि असली हींग का रंग हल्‍का भूरा होता है. ये गर्म घी में डालने पर फूलने लगती है और रंग हल्‍का लाल हो जाता है.
2- अगर आपकी हींग में कोई ऐसा बदलाव नहीं आता तो समझिए हींग में कुछ मिलावट है.
3- असली हींग को पहचानने का दूसरा तरीका है कि हींग को पानी में घोलने के बाद इसका रंग दूध के जैसा सफेद हो जाता है. 
4- अगर ऐसा नहीं हो तो समझिए हींग असली नहीं मिलावटी है.
5- असली हींग को जलाने पर आसानी से जल जाती है, जबकि नकली हींग जल्दी आग नहीं पकड़ती है. 
6- अगर हींग असली है तो हाछ में बहुत देर तक खुशबू रहेगी. फिर चाहें आप साबुन से भी हाथ धो लें, तो भी हींग की खुशबू बनी रहेगी. 
7- वहीं नकली हींग में मिलावट के साथ-साथ हाथ छोने पर खुशबू भी चली जाती है. 
8- असली हींग खानी है तो पाउडर की जगह मोटा टुकड़ा या हींग का ढेला खरीदें और घर पर पीस लें.
9- पाउडर वाली हींग में ज्यादा मिलावट पाई जाती है, इसलिए ये थोड़ी सस्ती भी होती है. 
10- हींग को खुले में रखने की बजाय आप किसी टीन की डिब्‍बी या कांच की बोतल में स्‍टोर करके रखें. इससे ज्यादा खुशबू बनी रहेगी. 

ये भी पढ़ें: फैटी लिवर का रामबाण इलाज, इस एक चीज को खाने से मिलेगा फायदा

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*