केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर के Twitter अकाउंट से ब्लू टिक हटा, बाद में किया गया रीस्टोर

Twitter Blue Tick: माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर आए दिन किसी न किसी वजह से चर्चा में है. इस बीच केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी और कौशल विकास राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर (Rajeev Chandrasekhar) के ट्विटर अकाउंट से ब्लू टिक हट गया. हालांकि बाद में इसे बहाल कर दिया गया. ब्लू टिक हटने के पीछे ट्विटर ने कहा कि माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर उनके हैंडल का नाम बदलना इसका कारण हो सकता है.

ये पहली बार नहीं है जब ट्विटर पर किसी नेता का ब्लू टिक हटा हो. इससे पहले देश के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के अकाउंट से ट्विटर ने ब्लू टिक हटा दिया था. बाद में उनके अकाउंट पर भी ब्लू टिक वापस आ गया. इतना ही नहीं, कुछ दिनों पहले आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत समेत कई संघ नेताओं के ट्विटर अकाउंट से ब्लू टिक हटा दिया था लेकिन बाद में इसे भी रीस्टोर कर दिया गया.

विवादों में रहा ट्विटर

नए आईटी नियमों को बीते दिनों में सरकार और ट्विटर के बीत ‘गतिरोध’ की स्थिति देखने को मिली. सरकार के साथ विवाद के बीच ट्विटर ने हाल में जानकारी दी कि उसने भारत में विनय प्रकाश को अपना निवासी शिकायत अधिकारी (रेजिडेंट ग्रीवेंस ऑफिसर) नियुक्त किया है. इतना ही नहीं, इन नियमों के तहत ट्विटर ने अपनी पहली अनुपालन रिपोर्ट भी प्रकाशित की. नए आईटी नियमों के तहत अनुपालन रिपोर्ट जारी करना अनिवार्य है.

ट्विटर की रिपोर्ट में क्या है?

अपनी भारत पारदर्शिता रिपोर्ट: प्रयागकर्ता शिकायत और अग्रसारी निगरानी, जुलाई, 2021 की रिपोर्ट में ट्विटर ने कहा है कि उसे 94 शिकायतें मिलीं. 26 मई, 2021 से 25 जून, 2021 के दौरान उसने 133 यूआरएल पर ‘कार्रवाई’ की है. इनमें व्यक्तिगत प्रयोगकर्ताओं की ओर से अदालती आदेश के साथ शिकायतें शामिल हैं.

ट्विटर ने कहा कि शिकायत अधिकारी-भारतीय चैनल के जरिये मिली शिकायतों में 20 मानहानि, छह शोषण/दुर्व्यवहार और चार संवेदनशील एडल्ट सामग्री से संबंधित थीं. इसके अलावा तीन शिकायतें निजता के उल्लंघन और एक शिकायत बौद्धिक संपदा के उल्लंघन से संबंधित भी थी.

जम्मू-कश्मीर: महबूबा मुफ्ती का केंद्र पर निशाना, कहा- पूरे देश में परिसीमन 2026 में तो यहां क्या जल्दी है?

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*