यूपी में बीजेपी का पंचायत से विधानसभा विजय का फॉर्मूला! 13 जुलाई से शुरू होगा ये कार्यक्रम

Uttar Pradesh Election: पार्लियामेंट से लेकर पंचायत तक यूपी में बीजेपी ने हर चुनाव अपने नाम किया. बीजेपी अध्यक्ष बनने के बाद अमित शाह ने ही कहा था कि संसद से लेकर पंचायत तक बीजेपी का कब्जा होना चाहिए तो यूपी में ऐसा ही हुआ. सीएम योगी आदित्यनाथ ने अमित शाह का वो सपना पूरा कर दिखाया. अब बीजेपी की तैयारी पंचायत से यूपी विधानसभा चुनाव जीतने की है.

पार्टी के रणनीतिकारों ने इसके लिए रोडमैप तैयार कर लिया है. इस पर काम भी शुरू हो गया है. फॉर्मूला कुल मिलाकर यही है कि जिसकी हवा होती है या बनती है, चुनाव में जीत उसे ही नसीब होती है. बीजेपी अब चुनाव के हिसाब से अपनी हवा बनाने में जुटी है. यही हवा बनाने के लिए पंचायत में मिली जीत को लॉन्चिंग पैड बनाया गया है. पंचायत से लेकर ब्लॉक प्रमुख का चुनाव जीत चुके नेताओं का स्वागत सत्कार शुरू हो गया है.

भव्य तरीके से हो कार्यक्रम

बीजेपी ने अपने सभी जिला यूनिट से कहा है कि इस कार्यक्रम को भव्य तरीके से किया जाए. जिला पंचायत अध्यक्ष, पंचायत सदस्य और ब्लॉक प्रमुख बने लोगों को मान सम्मान देकर एक बड़ा मैसेज देना चाहती है. इसलिए इलाके के सांसदों, मंत्रियों और विधायकों को इस मौके पर मौजूद रहने को कहा गया है. पार्टी चाहती है कि सभी बड़े नेताओं के साथ रहने से संदेश जाएगा कि बीजेपी एकजुट है. एकता में ही ताकत है.

13 जुलाई से शुरू होकर ये कार्यक्रम लंबा चलेगा. इसी बहाने कोरोना की दूसरी लहर के बाद घरों में बैठ गए बीजेपी कार्यकर्ता और समर्थक एक्टिव होंगे. इनके एक्टिव होने से बूथ मैनेजमेंट से लेकर चुनाव प्रचार तक पार्टी के लिए विरोधियों से मुकाबला करना आसान होगा. पहले पंचायत और फिर ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में मिली जीत पर पीएम नरेंद्र मोदी तक ने सीएम योगी से लेकर यूपी बीजेपी को बधाई दी.

सीएम योगी होंगे चेहरा

सीएम योगी ही अगले चुनाव में बीजेपी की ओर से मुख्यमंत्री का चेहरा होंगे. इसीलिए जीत का सेहरा उनके सिर बांधा जा रहा हैं. आखिर उनकी ही अगुवाई में पार्टी को चुनाव प्रचार में जाना है. इसी रणनीति पर चर्चा करने के लिए यूपी बीजेपी के पदाधिकारियों की 15 जुलाई को बैठक बुलाई गई है. अगले दिन प्रदेश कार्य समिति की मीटिंग होगी. जिसे बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा भी संबोधित करेंगे.

यह भी पढ़ें: अखिलेश के बाद अब मायावती ने ATS के ऑपरेशन पर उठाए सवाल, कहा- चुनाव से पहले ही ऐसा क्यों होता है?

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*