ईयरफोन, हेडफोन और ईयरबड्स खरीदने का है प्लान, तो इन बातों पर जरूर दें ध्यान

ईयरफोन, हेडफोन और ईयरबड्स की मांग भारत में बढ़ती जा रही है. बाजार में तरह-तरह ईयरफोन, हेडफोन या ईयरबड्स उपलब्ध हैं. ऐसे में लोगों के लिए सबसे बेहतर विक्लप का चुनाव करना मुश्किल हो गया है. अक्सर लोग यह भी तय नहीं कर पाते कि उनके लिए ईयरफोन सही रहेगा या ईयरबड्स.  आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताएंगे जिनको ध्यान में रखकर आप ईयरफोन, हेडफोन या ईयरबड्स खरीदने की सोच सकते हैं.

ईयरफोन  और हेडफोन

  • दो तरह के ईयरफोन  या हेडफोन भारतीय बाजार में उलब्ध हैं – वॉयर्ड और ब्लूटूथ.
  • ब्लूटूथ वाले हेडफोन या ईयरफोन  को चार्ज करना जरूरी होता है. ये थोड़े भारी होते हैं क्योंकि इनमें इन- बिल्ट बैटरी होती है.
  • आपको यदि रोजना कई घंटे हेडफोन का इस्तेमाल करना है तो आप वायर वाले हेडफोन को खरीदें.

ओवर ईयर हेडफोन

  • ओवर ईयर हेडफोन्स पूरे कानों को ढंकते हैं.
  • इनका साइज बड़ा होता है जिनकी वजह से इनमें बड़े ड्राइवर्स भी आसानी से लगाए जा सकते हैं, जिससे तेज साउंड और बेहतर बास मिलता है.
  • इन्हें लगाने के बाद बाहर का शोर बहुत कम सुनाई देता है क्योंकि ये आपके पूरे कान को ढक लेते हैं.
  • ओवर ईयर हेडफोन से कानों पर दबाव भी पड़ता है.

ईयरबड्स

  • ईयरबड्स हेडफोन्स का ही छोटा रूप है.
  • इसमें ईयरफोन  और हेडफोन दोनों का फील मिलता है.
  • ईयरफोन के मुकाबले ईयरबड थोड़ा महंगा होता है.

जैक टाइप

  • अधिकांश हेडफोन और ईयरफोन में 3.5mm जैक दिया जाता है.
  • कुछ हेडफोन USB टाइप-सी कनेक्टिविटी के साथ आते हैं.
  • USB-Type-C वाले हेडफोन को चार्जिंग के वक्त इस्तेमाल नहीं किया जा सकता क्योंकि चार्जिंग और कनेक्टिविटी के लिए एक ही पोर्ट मिलता है.
  • अलग-अलग चार्जिंग और कनेक्टिविटी वाले हेडफोन लेना बेहतर ऑप्शन है.
  • वायरलैस स्पीकर या ईयरफोन से भी इस प्रॉब्लम को दूर किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें:

अगर आपके बच्चे भी ज्यादा मोबाइल देखते हैं तो इन टिप्स का करें यूज

अगर जल्दी खत्म हो जाती है आपके फोन की बैटरी, तो इन तरीकों से बढ़ाएं बैटरी लाइफ

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*