यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर ब्राह्मणों को साधने में जुटी बसपा, सतीश मिश्रा ने संभाली कमान  

Ayodhya BSP Prabuddha Sammelan: अयोध्या में बहुजन समाज पार्टी का प्रबुद्ध समाज सम्मेलन कल आयोजित होना है. स्थानीय स्तर के नेता सम्मेलन की तैयारियों में जुटे हैं. सबसे पहले सतीश मिश्रा अयोध्या पहुंचेंगे और प्रबुद्ध समाज के लोगों से वार्ता करेंगे. उसके बाद हनुमानगढ़ी और राम जन्मभूमि में दर्शन-पूजन का कार्यक्रम है सतीश मिश्रा सरयू में दुग्धाभिषेक भी करेंगे. बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद सतीश मिश्रा अयोध्या के वरिष्ठ संतों से भी मुलाकात भी करेंगे. लेकिन, सबसे अहम होगा कि बहुजन समाज पार्टी अपने खोए हुए जनाधार को ब्राह्मणों के साथ साधने के प्रयास में होगी. इस संपूर्ण कार्यक्रम का उद्देश्य ब्राह्मणों को एकजुट करना है और इसके लिए स्थानीय स्तर के नेता संतों से मुलाकात कर कार्यक्रम को सफल बनाने के प्रयास में हैं. 

चर्चा में है प्रबुद्ध समाज का सम्मेलन
बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश मिश्रा कल अयोध्या पहुंचेंगे और तारा जी रिसोर्ट में 11 बजे प्रबुद्ध समाज के लोगों से मुलाकात कर चर्चा करेंगे. ब्राह्मण समाज को एकजुट कर सत्ता के गलियारे में राजनीतिक रोटी सेंकने के प्रयास में बहुजन समाज पार्टी मठ मंदिरों में भी जाएगी. सतीश मिश्रा संतों से मुलाकात करेंगे और उसके बाद हनुमानगढ़ी, राम जन्मभूमि और सरयू पूजन का कार्यक्रम है. 2022 के चुनाव से पहले प्रबुद्ध समाज का सम्मेलन चर्चा का विषय बना हुआ है.

बपसा ने दिया है सम्मान 
अयोध्या में प्रबुद्ध समाज सम्मेलन के संयोजक करुणाकर पांडे ने बताया कि बहुजन समाज पार्टी के महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा 23 जुलाई को अयोध्या की पवित्र भूमि पर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम का दर्शन करके बजरंगबली जी का दर्शन करके कार्यक्रम का प्रारंभ करने जा रहे हैं. प्रदेश में हर समाज, हर वर्ग पर अन्याय और अत्याचार हो रहा है, उसके खिलाफ बिगुल फूंकने की तैयारी है. पूरे प्रदेश के हर जिले में जाएंगे, लोगों से मिलेंगे, लोगों से बात करेंगे, लोगों की समस्याओं से रूबरू होंगे, बीएसपी ने ब्राह्मण समाज को हमेशा सम्मान देने का काम किया है. 

अत्याचार और उत्पीड़न हो रहा है
प्रबुद्ध वर्ग पर अन्याय और अत्याचार हो रहा है, उत्पीड़न हो रहा है. अब इससे ज्यादा विकट और क्या हो सकता है कि 5 दिन की ब्याहता खुशी दुबे को जेल में डाल दिया गया है. ये तो तालिबानी सरकार चल रही है, इस तरह से कहीं होता है. सतीश मिश्रा देश के जाने-माने अधिवक्ता हैं, अगर उनके पास परिवार जाएगा तो निश्चित है वो उनका मुकदमा लड़ेंगे. न्याय और इंसाफ के लिए लड़ाई लड़ी जाएगी. 

संतों का लेंगे आशीर्वाद
वहीं, अयोध्या में दर्शन-पूजन पर बोलते हुए करुणाकर पांडे ने कहा कि सतीश मिश्रा भारतीय संस्कृत और सनातन धर्म को मानने वाले व्यक्ति हैं. हनुमान जी के चरणों में, प्रभु श्री राम के चरणों में माथा टेकने आ रहे हैं. सरयू जी की आरती करने के लिए आ रहे हैं. अयोध्या के संत-महंतों से आशीर्वाद लेंगे.

प्रबुद्ध समाज के लोगों से करेंगे वार्ता
वहीं, सतीश मिश्रा के साथ बहुजन समाज पार्टी का कौन सा बड़ा नेता मंच साझा करेगा इसका जवाब देते हुए करुणाकर पांडे बोले कि हमारी नेता माननीय बहन जी हैं और उसके बाद सभी लोग कार्यकर्ता हैं. माननीय बहन जी के आदेश पर हमारे राष्ट्रीय महासचिव आ रहे हैं. प्रबुद्ध समाज के लोगों से वार्ता करने के लिए आ रहे हैं, प्रबुद्ध समाज पर जो अन्याय और अत्याचार हो रहा है उस पर वार्ता करेंगे.

ये भी पढ़ें: 

योगी सरकार ने दिल्ली में चलाया बुल्डोजर, रोहिंग्या के कब्जे से मुक्त कराई 150 करोड़ की जमीन

जंतर-मंतर पर पहुंचने से पहले किसानों की पुलिस से हल्की नोकझोंक, जानिए क्या बोले योगेंद्र यादव?

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*