Solar Eclipse 2020: साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 14 दिसंबर को लगेगा, जानिए- भारत में दिखेगा या नहीं

नई दिल्लीः साल का आखिरी 14 दिसंबर को सूर्य ग्रहण लगेगा. इस सूर्य ग्रहण का समय शाम आरंभ होकर मध्यरात्रि तक रहेगा. यह वृश्चिक राशि में लगने जा रहा है. इसका प्रभाव दुनिया में सभी जगह और सभी राशियों पर दिखाई देगा. इसको ग्रहण को खंडग्रास सूर्य ग्रहण माना जा रहा है. भारतीय समयानुसार इस सूर्य ग्रहण का समय शाम 7 बजकर 3 मिनट से आरंभ होगा और इसकी समाप्ति मध्यरात्रि में यानी 15 दिसंबर की रात 12 बजकर 23 मिनट पर होगी. सूर्य ग्रहण की अवधि 5 घंटे की रहेगी.

यह सूर्य ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा

14 दिसंबर में लगने वाला सूर्य ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा, क्योंकि इस सूर्य ग्रहण के समय भारत में रात का समय रहेगा. यह दक्षिण अफ्रीका, प्रशांत महासागर सहित दक्षिण अमेरिका, मैक्सिको सऊदी अरब, कतर, सुमात्रा, मलेशिया, ओमान, सिंगापुर, नॉर्थन मरिना आईलैंड और श्रीलंका में भी देखा जा सकेगा.

देश में नहीं दिखने से इस सूर्य ग्रहण को खंडग्रास कहा जा रहा है. खंडग्रास सूर्य ग्रहण के दौरान मंदिरों के कपाट बंद नहीं होते हैं.

वृश्चिक राशि के जातकों को विशेष सावधानी की जरूरत

सूर्य ग्रहण के दौरान वृश्चिक राशि के जातकों को विशेष सावधानी बरतनी होगी, क्योंकि इस बार का सूर्य ग्रहण वृश्चिक राशि में ही लगने जा रहा है. सूर्य ग्रहण के दौरान यात्रा करने से बचें. इसके साथ ही वृष, कर्क, तुला और मकर राशि के जातकों को भी सर्तकता बरतनी होगी. खंडग्रास होने के बाद भी सूर्य ग्रहण का प्रभाव सभी राशियों पर दिखाई देगा. सूर्य ग्रहण के समय पांच ग्रह एक साथ होंगे. इस दौरान चंद्रमा, बुध, शुक्र सूर्य और केतु एक मौजूद रहेंगे.

यह भी पढ़ें-

Holiday Calendar 2021: वर्ष 2021 में पड़ने वाली छुट्टी, व्रत और पर्व के बारे में जानें कब है वसंत पंचमी, दीपावली

Chanakya Niti: चाणक्य के अनुसार लक्ष्मी जी ऐसे लोगों का कभी साथ नहीं छोड़ती हैं, जानिए चाणक्य नीति

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*