नोएडा: कोचिंग सेंटर का संचालक ही तैयार करता था सॉल्वर गैंग, एयर फोर्स, आर्मी, पुलिस की परीक्षाओं में बिठाते थे सॉल्वर

नोएडा. दिल्ली से सटे नोएडा में सॉल्वर गैंग को लेकर हैरान करने वाला खुलासा हुआ है. नोएडा पुलिस ने यहां सॉल्वर गैंग के ऐसे दो सदस्यों को गिरफ्तार किया जो अपने ही कोचिंग सेंटर में पढ़ने वाले छात्रों को सॉल्वर बना कर परीक्षाओं में बिठाते थे. इस गैंग ने अब तक कई लोगों को सरकारी विभागों में भर्ती करा दिया. पुलिस अब सरकारी विभागों में काम करने वाले ऐसे लोगों की तलाश में जुट गई है. ये गैंग एयर फोर्स, आर्मी, दिल्ली पुलिस जैसे तमाम विभागों में नौकरियां दिलवाता था.

145 अभ्यर्थियों की परीक्षा दे चुका है सॉल्वर गैंग

पुलिस ने सॉल्वर गैंग चलाने के दो आरोपी वजीर सांगवान और पवन यादव को गिरफ्तार किया है. वजीर सांगवान विवेकानंद कोचिंग सेंटर के नाम से चरखी दादरी में अपना कोचिंग चलाता है. उसी कोचिंग सेंटर में पढ़ने वाले छात्रों को यह सॉल्वर बनाकर परीक्षाओं में दिखाता था और उसके बदले अभ्यर्थियों से मोटी रकम वसूल करता था. पूछताछ में पता चला है कि अब तक 145 लोगों की परीक्षा यह गैंग दे चुका है, जिसमें से कई लोग तो सरकारी नौकरी में दाखिला भी पा चुके हैं. वो कौन लोग हैं. किन विभागों में दाखिला पा चुके हैं. इसकी तलाश में अब नोएडा पुलिस लगी हुई है.

एयर फोर्स, नेवी, आर्मी में दिलाता था नौकरी

ये गैंग इंडियन एयर फोर्स, इंडियन नेवी, इंडियन आर्मी, दिल्ली पुलिस, हरियाणा पुलिस, इंडियन रेलवे और सीआईएसएफ जैसे महत्वपूर्ण विभागों की परीक्षा में अपने सॉल्वर बिठाकर परीक्षा दिलाता और जब छात्र उत्तीर्ण हो जाते तो उनसे मोटी रकम वसूल करता था.

अब तक 13 आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि यह गैंग 50 फीसदी पैसा सॉल्वर बिठाने से पहले लेता है और बाकी पैसा परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद. पुलिस ने इस गैंग के अब तक 13 सदस्यों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है. बाकी बचे सदस्यों की तलाश में पुलिस टीमें लगी हुई हैं.

ये भी पढ़ें:

योगी आदित्यनाथ बोले- किसानों के कंधों पर रखकर बंदूक चला रहे विरोधी दल

UP: ज्वेलर ने बनाई ‘अनमोल’ डायमंड रिंग, जड़े हैं इतने हजार हीरे, गिनीज बुक में नाम दर्ज

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*