बर्गर किंग IPO: आखिरी दिन 150 गुना सब्सक्राइव्ड, रिटेल समेत हर तरह के निवेशकों ने हाथोंहाथ लिया

बर्गर किंग इंडिया के आईपीओ को निवशकों का शानदार रेस्पॉन्स मिला है. रिटेल निवेशकों से लेकर संस्थागत और गैर संस्थागत, दोनों तरह के निवेशकों का इसे जबरदस्त समर्थन मिला है. चार दिसंबर को आईपीओ सब्सक्राइव करने का आखिरी दिन था. उस दिन शाम 5 बजे तक यह आईपीओ 156.65 गुना सब्सक्राइब हो चुका था. अपने शानदार सब्सक्रिप्शन की वजह से यह 2020 का दूसरा सबसे कामयाब IPO बन गया है. इससे पहले मझगांव डॉक के IPO को इतना शानदार रेस्पॉन्स मिला था.

लगातार मिलता रहा शानदार रेस्पॉन्स

बर्गर किंग इंडिया का आईपीओ दूसरे दिन 9.38 गुना सब्सक्राइव्ड हुआ था . कंपनी के आईपीओ को दूसरे 69,86,61,250 की बिडिंग हासिल हुआ है. जबकि कंपनी के आईपीओ का ऑफर साइज 7,44,91,524 शेयरों का था. कंपनी के शेयरों की रिटेल निवेशकों में जबरदस्त मांग दिखी. रिटेल इंडिविजुअल इनवेस्टर वाला हिस्सा 37.84 गुना सब्सक्राइव्ड हुआ जबकि क्यूआईबी यानी क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स वाला हिस्सा 2.70 गुना सब्सक्राइव हुआ. नॉन इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर वाला हिस्सा 3.61 गुना सब्सक्राइव्ड हुआ.

14 दिसंबर को हो सकती है लिस्टिंग

बर्गर किंग के शेयरों का आवंटन 9 दिसंबर तक फाइनल हो सकता है. इसकी लिस्टिंग 14 दिसंबर तक 2020 तक होने की उम्मीद है. इस साल दिसंबर तक आईपीओ का बाजार काफी अच्छा रहा है. बर्गर किंग को मिले सब्सक्रिप्शन से आने वाले दिनों में इसकी चमक और बढ़ने की संभावना है. साफ है कि अर्थव्यवस्था में सकारात्मक रुझान देखने को मिल सकता है और आगे निवेशकों का बाजार में विश्वास बढ़ सकता है. 2020 में 12 आईपीओ के जरिये करीब 25,000 करोड़ रुपये जुटाए गए हैं. 2019 के पूरे साल में 16 आईपीओ के जरिये 12,362 करोड़ रुपये जुटाए गए थे. 2018 में 24 कंपनियों ने आईपीओ से 30,959 करोड़ रुपये जुटाए थे. इस साल यानी 2020 में अबतक कंपनियों ने आईपीओ से 25,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं.

बर्गर किंग IPO: दूसरे दिन 9.38 गुना सब्सक्राइव्ड, रिटेल निवेशकों में जबरदस्त मांग

HDFC के बाद अब SBI के योनो ऐप में तकनीकी गड़बड़ी की शिकायतें, ग्राहकों ने सोशल मीडिया पर जाहिर किया गुस्सा

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*