Ind vs Aus: हार से दुखी ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर बोले- ‘कनकशन सब्सीटियूट’ में बदलाव समान तरह का होना चाहिए

Ind vs Aus: ऑस्ट्रेलियाई टीम ने शुक्रवार को कहा कि वह रविंद्र जडेजा के कनकशन सब्सीटियूट से निराश नहीं हैं, लेकिन उनका मुख्य मुद्दा यह है कि बदला हुआ खिलाड़ी जडेजा की तरह ही होना चाहिए था यानी एक ऑलराउंडर न कि लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल. चहल ने चार ओवरों में 25 रन देकर तीन विकेट लिए और मैन ऑफ द मैच चुने गए और भारत को पहला टी-20 मैच जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की.

चहल ने एरॉन फिंच, स्टीव स्मिथ और मैथ्यू वेड के विकेट लिए. जडेजा को मैच की पहली पारी के आखिरी ओवर में मिशेल स्टार्क की गेंद हेलमेट पर लग गई थी. इसी कारण चहल उनके स्थान पर कनकशन खिलाड़ी के तरह आए थे. हालांकि, इससे पहले जडेजा लंगड़ा रहे थे और 19वें ओवर की तीसरी गेंद पर उन्होंने ब्रेक भी लिया था.

ऑस्ट्रेलिया के हरफनमौला खिलाड़ी मोइजेस हेनरिक्स ने कहा कि उनकी टीम को कनकशन सब्सीटियूट से परेशानी नहीं है, लेकिन उनका मुद्दा यह है कि ऑलराउंडर जडेजा की जगह चहल सही विकल्प नहीं थे.

मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा, “मेरे लिए समान विकल्प एक ऑलराउंडर होता, या एक शानदार फील्डर. जो मैदान पर आया वो एक गेंदबाज था, जो 11वें नंबर पर बल्लेबाजी करता है. यह मेरे नजरिए में इकलौती चीज है. इसका मांसपेशियों में खिंचाव से लेना देना नहीं है. मैं समान विकल्प देखना चाहता था.”

उन्होंने आगे कहा, “कनकशन ठीक था. अगर खिलाड़ी को सिर में गेंद लगी है और अगर डॉक्टर को लगता है कि खिलाड़ी को बदलना चाहिए तो यह ठीक है. लेकिन यह बदलाव समान तरह का होना चाहिए. मेरे लिए यही एक चीज है.”

चहल के मैदान पर आने से ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लैंगर और कप्तान एरॉन फिंच काफी निराश थे. दूसरी पारी की शुरुआत से पहले मैच रैफरी डेविड बून से बात करते हुए इन दोनों को निराश देखा जा सकता था.

जडेजा के स्थान पर गेंदबाजी करने आए युजवेंद्र चहल ने पहले टी-20 मुकाबले में शानदार गेंदबाजी की और भारतीय टीम को जीत दिलाई. चहल को उनकी गेंदबाजी के लिये मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड दिया गया. चहल ने 4 ओवर में 25 रन देकर 3 महत्वूर्ण विकेट चटकाए.

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*