कांग्रेस ने CM नीतीश पर साधा निशाना, कहा- मुख्यमंत्री के हाथ में अब कुछ भी नहीं

पटना: बिहार में बढ़ते अपराध और गिरती विधि व्यवस्था को लेकर बुधवार को प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने बिहार के नीतीश सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया है. कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार के हाथ में अब कुछ भी नहीं है. अब चूंकि वे परिस्थितियों के सीएम हैं, इसलिए ये सिर्फ परिस्थिति के अनुसार ही चल सकते हैं.

अपराध के एक मात्र जिम्मेदार नीतीश कुमार

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि अब सीएम नीतीश के कार्यकाल में आम जनता को हमेशा की तरह परेशान ही रहना पड़ेगा. प्रदेश प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने कहा कि राज्य में गिरती विधि व्यवस्था के एकमात्र जिम्मेदार सीएम नीतीश कुमार है. उन्होंने कहा कि ‘बेलगाम अपराध से कराहता बिहार, जिम्मेदार एक सिर्फ सीएम नीतीश कुमार’. उनकी मानें तो यह सिर्फ कोई नारा नहीं है बल्कि आज के समय में बिहार के आम आवाम की नियति भी बन चुकी है.

सीएम नीतीश के हाथों में नहीं है ‘कंट्रोल पैनल’

उन्होंने कहा कि बिहार के सभी जिलों के सभी प्रखंड के लोग अपराधियों से त्रस्त हैं. नतीजा सीएम नीतीश सिर्फ बैठक पर बैठक करते हैं. मगर अब उनका सरकारी तंत्र पर पकड़ रह ही नहीं गया है, जिससे बड़ी-बड़ी कुर्सियों पर बैठे आला अफसर और उनके हनक को समझ सकें. दरअसल, सरकारी तंत्र के ऊंचे ओहदों पर बैठे अधिकारी भली-भांति जानते हैं कि सीएम नीतीश कुमार के हाथ में अब इस सरकार की ‘कंट्रोल पैनल’ है ही नहीं. इसलिए वे अब भाजपा और जदयू के रस्साकशी का मजा लेते हुए सिर्फ आराम कर रहे हैं. नतीजा प्रदेश की आम जनता अपराधियों के हाथों लुटने- पिटने और अपनी जान गंवाने पर विवश है.

सड़क से सदन तक आंदोलन करेगी कांग्रेस

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने कहा कि बिहार में बेलगाम अपराध के खिलाफ कांग्रेस चुप नहीं बैठने वाली है. उन्होंने कहा कि हालात यही रहे तथा इंडिगो एयरलाइंस के स्टेट हेड रुपेश के हत्यारों को अगर पुलिस जल्द नहीं गिरफ्तार करती हैं, तो कांग्रेस इस सरकार के खिलाफ सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन करेगी. जंगल राज की बात करने वाले नीतीश कुमार ख़ुद महाजंगल राज के महाराजा बनकर बिहार को गोबर राज में धकेल कर गोबर गणेश बनकर बैठे हैं.

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*