Ind vs Aus: पांड्या ने अपना ‘मैन ऑफ द सीरीज’ अवॉर्ड इस खिलाड़ी को दिया, बोले- आप इसके हकदार हो

सिडनी: सीमित ओवरों की सीरीज में शानदार प्रदर्शन से आगामी टेस्ट सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया में रुकने की उम्मीद जगाने के दो दिन बाद भारत के आक्रामक ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने मंगलवार को कहा कि वह ‘स्वदेश वापस लौट रहे हैं’. पीठ के ऑपरेशन के बाद वापसी करने वाले पांड्या ने नियमित रूप से गेंदबाजी शुरू नहीं की है लेकिन सीमित ओवरों की सीरीज में उनके शानदार प्रदर्शन के बाद उम्मीद बंधी थी कि टेस्ट टीम में चयन के लिए उनके नाम पर विचार हो सकता है. टी-20 सीरीज में शानदार प्रदर्शन के लिए पांड्या को मैन आफ द सीरीज चुना गया. उन्होंने कहा, ”मैं खुश हूं और मैन आफ द सीरीज पुरस्कार जीतने की मुझे खुशी है लेकिन यह टीम प्रयास था.”

मैन आफ द सीरीज का खिताब जीतने के बाद पांड्या ने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर की है, जो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है. इस फोटो में पांड्या नटराजन के साथ नजर आ रहे हैं. उन्होंने फोटो शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा,” नटराजन आपने इस सीरीज में शानदार प्रर्दशन किया. मुश्किल वक्त में टीम इंडिया की तरफ से डेब्यू करते हुए इतना कमाल का प्रदर्शन करना बताता है कि आपके अंदर कितनी काबिलियत है. मेरी तरफ से आप ही इस मैन ऑफ द सीरीज के हकदार हो भाई.”

रविवार को टीम की जीत में अहम भूमिका निभाने के बाद इस ऑलराउंडर ने जब कहा था कि टीम प्रबंधन अगर चाहता है तो उन्हें ऑस्ट्रेलिया में रुकने में कोई दिक्कत नहीं है तो उनके रुकने की उम्मीद बढ़ गई थी. हालांकि दो दिन बाद पांड्या ने पुष्टि की कि वह वापस भारत लौट रहे हैं.

पांड्या ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे और अंतिम टी-20 अंतरराष्ट्रीय के बाद कहा, ”मुझे लगता है कि मुझे स्वदेश लौटना चाहिए और अपने परिवार के साथ कुछ समय बिताना चाहिए. मैंने चार महीनों से अपने बच्चे को नहीं देखा है, इसलिए मैं अब अपने परिवार के साथ समय बिताना चाहता हूं.” टेस्ट क्रिकेट में वापसी के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ”शायद भविष्य में. मुझे नहीं पता, शायद.”

इससे पहले जब पांड्या से पूछा गया कि क्या वह टेस्ट सीरीज के लिए रुकना चाहते हैं तो उन्होंने कहा था, ”यह अलग फोर्मेट है, मुझे लगता है कि मुझे ऐसा करने की जरूरत है, मेरे कहने का मतलब है कि मुझे कोई दिक्कत नहीं है लेकिन अंत में फैसला प्रबंधन को करना है.” कप्तान विराट कोहली के साथ मिलकर पांड्या एक बार फिर भारत को लक्ष्य तक पहुंचाते दिख रहे थे लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने धैर्य बरकरार रखते हुए जीत दर्ज की.

उन्होंने कहा, ”हम सभी ने दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय के बाद फैसला किया था कि हम इसे अब चार मैचों की सीरीज के रूप में देखेंगे और हमें उम्मीद थी कि हम चार में से तीन मैच जीतेंगे और ऐसा ही हुआ इसलिए खुशी है.” भारत ने पहले दो मैच गंवाने के बाद वनडे सीरीज 1-2 से गंवा दी थी लेकिन इसके बाद शानदार वापसी करते हुए टी-20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला जीती.

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*