भारत बंद का नोएडा में दिखा मिला-जुला असर, हिरासत में लिए गए कई नेता, ड्रोन कैमरे से रखी जा रही है नजर

नोएडा: नए कृषि कानून के विरोध में विभिन्न किसान संगठनों की तरफ से बुलाए गए भारत बंद का उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिले में मिला-जुला असर रहा और यहां कारखाने, मॉल और बाजार खुले रहे. पुलिस ने बंद के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए. पुलिस ने कई राजनीतिक दलों के नेताओं और विभिन्न संगठनों से जुड़े लोगों को हिरासत में ले लिया या उन्हें नजरबंद कर दिया.

विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा

भारत बंद को कांग्रेस, समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा), वामदल, आम आदमी पार्टी (आप), शिवसेना, तृलमूल कांग्रेस समेत कई दलों ने समर्थन दिया है. भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता सुनील प्रधान ने बताया कि जब तक किसानों की मांग पूरी नहीं होती, तब तक विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा.

ड्रोन कैमरे से रखी जा रही है नजर

अपर पुलिस उपायुक्त लव कुमार ने बताया कि भारत बंद के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद की गई है. उन्होंने बताया कि भारी पुलिस बल के साथ पीएसी की पांच अतिरिक्त कंपनियां तैनात की गई हैं और किसी भी व्यक्ति को कानून अपने हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि भीड़भाड़ वाले विभिन्न बाजारों में ड्रोन कैमरे से भी नजर रखी जा रही है.

राजनीतिक संगठनों ने की निंदा

नोएडा में पुलिस ने शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए एहतियात के तौर पर विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के नेताओं और किसान संगठनों से जुड़े लोगों को हिरासत में ले लिया या उन्हें नजरबंद कर दिया. इस कार्रवाई की विभिन्न राजनीतिक संगठनों ने कड़ी निंदा की है.

किसान विरोधी है सरकार

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष वीर सिंह यादव को थाना सेक्टर-49 पुलिस ने सर्फाबाद गांव स्थित उनके आवास पर नजरबंद कर दिया. यादव ने कहा कि केंद्र एवं प्रदेश सरकार पूरी तरह से किसान विरोधी है और यदि सरकार किसान विरोधी नहीं है, तो सरकार को किसान विरोधी कृषि कानूनों को अब तक वापस ले लेना चाहिए था.

सपा घबराने वाली नहीं है

ग्रेटर नोएडा में सपा के जिला प्रवक्ता श्याम सिंह भाटी को पुलिस ने हिरासत में लिया है. भाटी ने कहा कि सपा सरकार की दमनकारी नीतियों से घबराने वाली नहीं है. उन्होंने कहा कि किसानों के साथ भाजपा सरकार का यह रवैया दुर्भाग्यपूर्ण है. भाटी के अलावा सपा के युवजन सभा अध्यक्ष दीपक नागर और वरिष्ठ नेता जतन भाटी सहित दर्जनों नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले रखा है.

पुलिस कार्रवाई की निंदा

सपा नोएडा महानगर अध्यक्ष दीपक विग को भी थाना सेक्टर-24 पुलिस ने उनके आवास से हिरासत में ले लिया. विग ने भी पुलिस की इस कार्रवाई की कड़ी निंदा की है. सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष फकीर चंद नागर को पुलिस ने उनके सेक्टर 61 स्थित आवास से हिरासत में ले लिया.

किसानों का साथ देगी सपा

सपा नोएडा (ग्रामीण) के जिलाध्यक्ष रेशपाल अवाना को थाना सेक्टर-20 पुलिस ने उनके निठारी गांव स्थित आवास से हिरासत में ले लिया. अवाना ने कहा कि समाजवादी पार्टी पूरी तरह से किसानों के साथ है और उनके आंदोलन में कंधे से कंधा मिलाकर साथ देगी.

राकेश यादव को किया गया नजरबंद

पुलिस ने समाजवादी पार्टी नोएडा महानगर के पूर्व अध्यक्ष राकेश यादव को सर्फाबाद गांव स्थित उनके आवास पर नजरबंद किया है. इसके अलावा भारतीय किसान यूनियन के नेता परविन्दर यादव को सेक्टर 116 में स्थित उनके आवास में नजरबंद किया गया है.

तानाशाह हो गई है सरकार

पुलिस ने युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष पुरुषोत्तम नागर, कांग्रेस महानगर अध्यक्ष शहाबुद्दीन और महासचिव रिजवान चौधरी को हिरासत में ले लिया है. इस बीच आम आदमी पार्टी के जिलाध्यक्ष भूपेंद्र जादौन को भी हिरासत में लिया गया है. जादौन ने कहा कि सरकार पूरी तरह से तानाशाह हो गई है और जनता की आवाज को पुलिस एवं प्रशासन के बल पर दबाने का काम कर रही है.

ये भी पढ़ें:

भारत बंद का यूपी में कैसा है असर? जानें- लखनऊ, कानपुर, गोरखपुर समेत अलग-अलग शहरों का हाल

‘भारत बंद’ के लिए हाई अलर्ट पर यूपी, सीएम योगी का निर्देश- आम लोगों को न हो असुविधा

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*