जानिए: कब, कहां, किस समय खेले जाएंगे IND Vs AUS टेस्ट सीरीज के मुकाबले

ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर मेजबान टीम जहां वनडे सीरीज को 2-1 से अपने नाम करने में कामयाब रही, तो वहीं विराट कोहली की टीम इंडिया ने ट्वेंटी-ट्वेंटी सीरीज में 2-1 से जीत दर्ज कर हिसाब बराबर कर लिया. अब दोनों टीमों के बीच चार टेस्ट मैचों की बार्डर-गावस्कर ट्रॉफी खेली जानी है. 17 दिसंबर से शुरू होने जा रही इस सीरीज से आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप की एक फाइनलिस्ट का नाम भी लगभग तय हो सकता है.

हाल ही में आईसीसी के टेस्ट चैंपियनशिप में किए गए बदलाव की वजह से ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत को पछाड़कर नंबर वन का पायदान हासिल करने में कामयाब रही है. टीम इंडिया के पास हालांकि मेजबान को मात देकर पहला स्थान दोबारा हासिल करने का मौका है.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट सीरज के लिए एडिलेड, मेलबर्न, सिडनी और ब्रिसबेन चार स्थान तय किए हैं. चूंकि पहला टेस्ट खेलने के बाद कप्तान विराट कोहली इंडिया वापस आ जाएंगे इसलिए टीम इंडिया के लिए टेस्ट सीरीज में चुनौती काफी कड़ी हो सकती है. स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के भी पहले टेस्ट में खेलने की संभावना नहीं के बराबर ही है. ऐसी स्थिति में जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के कंधों पर ही भारतीय टीम बहुत हद तक निर्भर करेगी.

ऑस्ट्रेलियाई टीम भी हालांकि स्टार ऑलराउंडर डेविड वार्नर की चोट से परेशान है. वार्नर पहले टेस्ट से बाहर हो चुके हैं और कनकशन की वजह से विल पोकोवस्की का खेलना भी अभी तक तय नहीं है. मिशेल स्टार्क ने ट्वेंटी-ट्वेंटी सीरीज से अपना नाम वापस ले लिया था. स्टार्क पहला टेस्ट खेलेंगे या नहीं इस पर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है.

टेस्ट सीरीज का कार्यक्रम

  • IND v AUS, 1st Test: 17 दिसंबर से 21 दिसंबर के बीच, एडिलेड ओवल मैदान पर सुबह 9:30 बजे से
  • IND v AUS, 2nd Test: 26 दिसंबर से 30 दिसंबर के बीच, मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर सुबह 5 बजे से
  • IND v AUS, 3rd Test: 7 जनवरी से 11 जनवरी के बीच, सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर सुबह 5 बजे से
  • IND v AUS, 4th Test: 15 जनवरी से 19 जनवरी के बीच, ब्रिसबेन के गाबा मैदान पर सुबह 5.30 बजे से

ऑस्ट्रेलिया और इंडिया के बीच टेस्ट सीरीज की शुरुआत 17 दिसंबर से शुरू होने वाले डे नाइट टेस्ट से होगी जिसमें लाल की बजाए पिंक गेंद का इस्तेमाल किया जाता है.

वर्ल्ड कप के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं नटराजन, जानें विराट कोहली ने क्यों कहा है ऐसा

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*