इंदौर ड्रग रैकेट का ‘लिंक’ देख पुलिसवाले भी ‘चकराए’, मिला मुंबई बम ब्लास्ट कनेक्शन

नई दिल्ली/इंदौर: मध्य प्रदेश के इंदौर में पिछले दिनों भारी मात्रा में MDMA (Methyl​enedioxy ​methamphetamine) ड्रग्स बरामद की गई थी. लेकिन, अब जो खुलासा इस मामले में हुआ वह और भी चौंकाने वाला है. दरअसल, जिन लोगों को इस रैकेट में पकड़ा गया उनका कनेक्शन अंडरवर्ल्ड से जुड़ा हुआ है. साथ ही गिरफ्तार लोगों के नाम मुंबई बम ब्लास्ट और गुलशन कुमार हत्याकांड से भी जुड़े हुए हैं.

गौरतलब है कि इंदौर पुलिस ने 70 किलो MDMA बरामद की थी. इस मामले में वसीम खान और अय्यूब कुरैशी को गिरफ्तार किया गया था. पूछताछ में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. वसीम खान का नाम टी-सीरीज के मालिक गुलशन कुमार की हत्या में भी आया था. सबूतों के अभाव में अदालत ने उसे बरी कर दिया था. वह अबू सलेम गैंग का पुराना सदस्य रहा है.

इसके साथ ही अय्यूब कुरैशी 1993 बम धमाकों का दोषी रहा है. उसे इस मामले में पांच साल की सजा भी हुई थी. सजा पूरी होने के बाद वह मुंबई में एक पार्किंग में काम करने का दिखावा कर रहा था. लेकिन, असल में वो ड्रग्स का धंधा कर रहा था. इस ने इस पूरे मामले में अबतक करीब 15 लोगों को गिरफ्तार किया है. पांच जनवरी को यह रैकेट पकड़ा गया था.

पुलिस के अनुसार ड्रग्स को इंदौर और आसपास के इलाकों में सप्लाई करने का काम मंदसौर के चिमन का था. वह हैदराबाद के वेदव्यास से नशे का सामान खरीददा था. इसके बाद अलग-अलग तरीकों से उन्हें लेकर इंदौर में पहुंचाता था. वेदप्रकाश हैदराबाद में मेडिसिन लैब चलाता है. पुलिस का कहना है इस मामले में कुछ अन्य लोग भी गिरफ्तार हो सकते हैं. पूछताछ अभी जारी है.

पुलिस का कहना है कि अब किस रूट से ड्रग लाई जा रही थी इसकी जांच चल रही है. साथ ही मध्य प्रदेश के अन्य किन जिलों में इसकी सप्लाई थी, यह भी पता किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: 

आलीशान होटलों में चल रहा था ‘सेक्स रैकेट’, 8 मॉडल्स को कराया मुक्त

बिहार: ‘लापता’ कृषि अधिकारी का शव मिला, परिवार ने जताई थी अपहरण की आशंका

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*