Tractor Rally Violence: कौन है वो शख्स जिसने फहराया लाल किले पर खालसा पंथ का झंडा

नई दिल्लीः गणतंत्र दिवस के दिन राजधानी दिल्ली में किसानों की तरफ से आयोजित ट्रैक्टर रैली ने न सिर्फ लाल किले के रंग को भंग किया बल्कि इतिहास में ऐसे बुरे पन्नों को जोड़ दिया जिसका जिक्र सदियों तक होगा. कुछ शर्तों के साथ किसानों को ट्रैक्टर रैली की इजजात मिली. पुलिस ने रूट तय किए थे. लेकिन किसानों ने पुलिस की तमाम शर्तों को तोड़ते हुए पहले आईटीओ और फिर लाल किले तक पहुंच गए. लेकिन लाल किले पर उपद्रवी किसानों ने जिस तरह से उत्पात मचाया और हिंसा को अंजाम दिया, जिससे हर कोई हैरान रह गया.

उपद्रवी किसान इस कदर भड़के और बेहूदगी पर उतरे कि उन्होंने लाल किले की गरिमा का भी सम्मान नहीं किया है और उस खंभे पर खालसा पंथ का झंडा लहरा दिया जहां हर साल स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री झंडा फहराते हैं. झंडा फहराने का काम पंजाब के तरनतारन के रहने वाले युवक ने अंजाम दिया.

कैसे पहुंचे लाल किला

ट्रैक्टर रैली में शामिल ट्रैक्टर अपनी धुन में लगातार आगे बढ़ते जा रहे थे. रास्ते में मिलने वाले बैरिकेटिंग को उपद्रवियों ने या तो हटा दिया या कुचलते हुए आगे बढ़ गए. आईटीओ पर उन्हें रोकने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले तो दागे लेकिन वह भी उपद्रवियों को लाल किले तक पहुंचने तक नहीं रोक सके.

भीड़ का फायदा उठाते हुए उपद्रवी किसानों ने न सिर्फ लाल किले में तोड़फोड़ की बल्कि उस खंभे पर खालसा पंथ का झंडा ‘निशान साहिब’ को लहरा दिया जहां देश के प्रधानंत्री 15 अगस्त के दिन ध्वजारोहन करते हैं.

परिवार के लोग हैं खुश

खालसा पंथ का झंडा लहराते ही सभी लोग भौंचक रह गए. सभी के मन में यही सवाल उठने लगा कि आखिर कौन है ये शख्स जिसने लाल किले के प्राचीर से खालसा पंथ का झंडा लहरा दिया. इस शख्स ने एक नहीं बल्कि दो-दो झंडे उस खंभे पर फहरा दिए.

शुरुआत में तो पुलिस भी भौंचक रह गई लेकिन तुरंत जांच पड़ताल में जुट गई कि आखिर कौन था वह शख्स जिसने ऐसा किया. कुछ ही देर बाद जांच में जुटी पुलिस को शख्स के बारे में पता चल गया. पुलिस ने झंडा लहराने वाले व्यक्ति की पहचान कर ली. पुलिस के मुताबिक झंडा लहराने वाले उपद्रवी का नाम जुगराज सिंह है. वह पंजाब के तरनतारन जिले का रहने वाला है.

abp न्यूज़ से बातचीत में किसानों का खुलासा, दीप सिद्धू-लक्खा सिधाना के कहने पर लाल किला पहुंचे थे

क्राइम ब्रांच करेगी किसान परेड में हुए बवाल की जांच, उपद्रवियों की पहचान के लिए ली जा रही CCTV की मदद- सूत्र

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*