भारत के चीफ जस्टिस एसए बोबडे की मां के साथ 2.5 करोड़ रुपये की ठगी, प्रॉपर्टी केयरटेकर गिरफ्तार

नई दिल्लीः भारत के चीफ जस्टिस एसए बोबडे की मां के साथ 2.5 करोड़ की ठगी हुई है. इस मामले में महाराष्ट्र की नागपुर पुलिस ने प्रॉपर्टी केयरटेकर को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि नागपुर में एसए बोबडे की पैतृक संपत्ति है जो अभी उनकी मां के नाम पर रजिस्टर्ड है. जिसकी देखरेख के लिए तापस घोष को केयरटेकर बनाया गया था. तापस घोष ने जस्टिस बोबडे की मां से कथित तौर पर 2.5 करोड़ की धोखाधड़ी की है.

प्रॉपर्टी केयरटेकर ने की धोखधड़ी

दरअसल नागपुर में आकाशवाणी स्क्वायर के पास ‘सडॉन लॉन’ बोबडे परिवार की संपत्ति में से एक है. संपत्ति का मालिकाना हक अभी जस्टिस बोबडे की मां मुक्ता बोबडे के पास है. इस लॉन में कई प्रकार के आयोजनों को किया जाता है जिसके लिए इसे किराए पर दिया जाता है. इस काम के लिए बोबडे परिवार ने फ्रेंड्स कॉलोनी में रहने वाले तापस घोष को प्रॉपर्टी का केयरटेकर बनाया था.

बीमारी का उठाया फायदा

प्रॉपर्टी के केयरटेकर तापस घोष पर आरोप है कि मुक्ता बोबडे के बीमार होने के कारण तापस घोष ने इस मौके का फायदा उठाया. उनसे लॉन को किराए पर दिया, लेकिन मिलने वालों पैसे में धोखाधड़ी करते हुए 2.5 करोड़ की हेराफेरी कर दी. वहीं जब धोखधड़ी की बात सामने आई तो पुलिस में मामला दर्ज होने के बाद एसआईटी का गठन करके मामले की छानबीन की जा रही है.

गिरफ्तार हुआ प्रॉपर्टी केयरटेकर

फिलहाल प्रॉपर्टी केयरटेकर को गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीं नागपुर पुलिस की डीसीपी विनीता साहू इस मामले की छानबीन कर रही हैं. मामले में एक पुलिस अधिकारी ने बताया है कि तापस घोष को पहले एसआईटी पूछताछ में रखा गया था, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया है.

इसे भी पढ़ें

विदेश मंत्री एस जयशंकर बोले- चीन ने LAC पर सैनिक बढ़ाने के पांच अलग-अलग कारण बताएं

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा बोले- असहिष्णुता का पर्याय हैं ममता बनर्जी

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*