भारत के संसद भवन को 100 साल भी नहीं हुए पूरे, दुनिया में कई पार्लियामेंट बिल्डिंग है सैकड़ों साल पुरानी

नई दिल्ली: नई संसद भवन की नींव रखी जा चुकी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद भवन की नींव रखते हुए सबसे पहले भूमि पूजन किया और इसके बाद संसद भवन की आधारशिला रखी गई. नया संसद भवन शास्त्री भवन के पास की खाली जमीन पर बनाया जाएगा. भवन का निर्माण करीब 64500 वर्गमीटर जमीन पर होने जा रहा है और इसमें करीब 971 करोड़ रुपये की लागत आएगी. हालांकि पुराने संसद भवन को अभी 100 साल भी पूरे नहीं हुए लेकिन उससे पहले ही भारत में नया संसद भवन बनकर तैयार हो जाएगा.

नए संसद भवन में लोकसभा सदस्यों के लिए 888 सीटें होंगी. इसके अलावा राज्यसभा सदस्यों के लिए 326 से ज्यादा सीटें होंगी. इसमें 1224 सदस्यों के एक साथ बैठने की भी व्यवस्था होगी. इसके अलावा हर एक सदस्य के लिए 400 वर्गफुट का एक कार्यालय भी इस नए भवन में होगा. नई संसद पुरानी संसद से करीब 17 हजार वर्गमीटर बड़ी है. इस संसद भवन को 2022 तक तैयार किया जाएगा. नए संसद भवन में सभी सांसदों के लिए दफ्तर तैयार किया जाएगा, इसे 2024 तक तैयार किया जाएगा. हालांकि विश्व में ऐसे कई संसद की इमारतें हैं जो भारत से भी ज्यादा पुरानी हैं.

दुनिया में ये संसद भवन सबसे ज्यादा पुराने हैं…

  • भारत के मौजूदा संसद भवन का साल 1927 में उद्घाटन हुआ था. उस दौर में इस भवन को बनाने में केवल 83 लाख रुपये का खर्च आया था.
  • भारत के मौजूदा संसद भवन को अभी 100 साल भी पूरे नहीं हुए हैं. जबकि विश्व में कई ऐसे देश मौजूद हैं जहां सैकड़ों साल पहले बने हुए संसद भवन अभी तक देश के सांसदों का केंद्र है. विश्व में सबसे पुराना संसद भवन (द बिन्‍नेनहोफ) नीदरलैंड का है. 13वीं शताब्‍दी में इसका निर्माण हुआ था. यहां आज भी सांसदों की बैठकें होती है. यहां का संसद भवन नीदरलैंड के 100 विरासत स्‍थलों में शामिल है.
  • इसके अलावा इटली का संसद भवन (पलाज्‍जो मडामा) भी काफी पुराना है. यहां 1505 में संसद का निर्माण हो गया था.
  • फ्रांस का संसद भवन (लग्‍जमबर्ग पैलेस) भी पुराना है. इस भवन का निर्माण वहां के राजा के भवन के तौर पर 1615 से 1645 के बीच में किया गया था. साल 1958 से लगातार यहां पर संसद भवन की बैठक हो रही है.
  • इसके अलावा अमेरिका का संसद भवन भी 200 साल से ज्यादा पुराना है. अमेरिका के संसद भवन का निर्माण सन 1800 में हुआ था.
  • वहीं ब्रिटेन का संसद भवन भी काफी पुराना है. यहां के हाउस ऑफ कॉमन का निर्माण 1840 में और हाउस ऑफ लॉर्ड्स का निर्माण 1870 में हुआ था.

यह भी पढ़ें:

PM मोदी ने नई संसद की रखी नींव, 971 करोड़ रुपये के खर्च से तैयार होगा आलीशान संसद भवन

नए संसद भवन के शिलान्यास पर PM मोदी ने कहा, ‘आज का दिन भारत के लोकतांत्रिक इतिहास में मील के पत्थर की तरह’

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*