इन आंखों के सामने से गुजरे जंग के कई दौर, 100 साल के हुए कर्नल पृथीपाल सिंह गिल

रिटायर्ट कर्नल पृथीपाल सिंह उम्र की दहलीज पर आज 100 साल के हो गए. इनकी आंखों के सामने से दूसरे विश्वयुद्ध से लेकर 1965 की भारत-पाकिस्तान की लड़ाई तक, कई जंग के दौर गुजरे हैं. वह एक मात्र ऐसे अधिकारी रहे हैं जिन्होंने भारतीय सेना के तीनों अंगों- थलसेना, जलसेना और वायुसेना में अपनी सेवाएं दी हैं.

कर्नल (रिटा.) पृथीपाल सिंह के बारे में ऐसा कहा जाता है कि वे अपने परिवार से बिना पूछे ही अंग्रेजी हुकूमत में रॉयल इंडियन एयरफोर्स में भर्ती हो गए थे. इसके बाद उन्हें कराची में पायलट अधिकारी के तौर पर नियुक्त किया गया था.

लेफ्टिनेंट जनरल केजे सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल से गिल के बारे में यह जानकारी साझा करते हुए बताया कि वह हॉवर्ड एयरक्राफ्ट को उड़ाया करते थे. इसके बाद कर्नल गिल का भारतीय नौसेना में ट्रांसफर कर दिया गया. भारतीय नौसेना में रहते हुए कर्नल गिल ने स्वीपिंग शिप और आईएनएस तीर पर अपनी सेवाएं दीं.

दूसरे विश्व युद्ध के दौरान उन्हें मालवाहक पोतों की निगरानी का जिम्मा सौंपा गया.  उनके के सौ साल पूरे होने के खास मौके पर उन्होंने सोशल मीडिया में उनकी जवानी की एक फोटो और मौजूदा समय की एक फोटो केजे सिंह ने शेयर की है.

ये भी पढ़ें: टिड्डी-दल की तरह दुश्मन पर टूट पड़ने के लिए भारत के ड्रोन हैं तैयार, IAF ने शेयर की तस्वीरें 

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*