COVID 19: कोरोना की दूसरी लहर ने दे दी दस्तक, पढ़ें- आंकड़े

नई दिल्ली: इसे लोगों की लापरवाही समझें या फिर सरकारों की नरमी कहा जाये लेकिन हक़ीक़त यह है कि देश के चार राज्यों में कोरोना की दूसरी लहर ने दस्तक दे दी है. हालांकि कुल छह राज्यों में तेजी से संक्रमण फैल रहा है. देश भर में पिछले 24 घंटे में 10,584 नये मामले सामने आए हैं जिससे पता लगता है कि इस संक्रमण ने फिर से अपनी रफ्तार पकड़ ली है.

सोमवार को देश भर में कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या 1,47,306 रही जो चिंताजनक स्थिति है. पिछले 24 घंटे में 13 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश ऐसे रहे जहां रिकवरी से ज्यादा नए कोरोना मरीजों की पहचान हुई है. इनमें 4 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर ने दस्तक दे दी है. इसमें महाराष्ट्र, पंजाब, जम्मू कश्मीर और चंडीगढ़ शामिल हैं.

महाराष्ट्र में हालात सबसे अधिक बेकाबू होते जा रहे हैं और इसे देखते हुए ही वहां सभी राजनीतिक,धार्मिक व सामाजिक समारोह पर रोक लगा दी गई है. राज्य में पिछले 10 दिन से लगातार एक्टिव केस बढ़ रहे हैं. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को चेतावनी देनी पड़ी कि अगर लोगों ने COVID गाइड लाइन का सख्ती से पालन नहीं किया, तो राज्य में फिर से लॉकडाउन लगाने की नौबत आ सकती है.

उधर, पंजाब में भी पिछले 12 दिन से, चंडीगढ़ में 10 दिन से और जम्मू कश्मीर में पिछले एक हफ्ते से लगातार एक्टिव केस की संख्या में इज़ाफ़ा हो रहा है. केरल में हालात अब काबू में आने लगे हैं. वहां सोमवार को 2841 एक्टिव मरीजों की संख्या में कमी आई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में देश में 10,584 कोरोना के नए मामले आए हैं. देश में कोरोना के कुल मामले 1,10,16,434 पर पहुंच गए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने 78 मरीजों के मौत का आंकड़ा जारी किया. देश मे अब तक कुल 1,56,463 लोगों की मौत हो चुकी है.

भारत में अब तक कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम के तहत 1,11,16,854 लोगों को टीका लगाया जा चुका है. देश में कोरोना के एक्टिव मामले 1,47,306 पर पहुंच गए हैं. जो 16 फरवरी को एक लाख 36 हजार थे. लगातार पांच दिनों से देश में कोरोना वायरस से नए मामलों की संख्या 10,000 से अधिक बनी हुई है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी कि महाराष्ट्र, केरल, तमिलनाडु, गुजरात, कर्नाटक और मध्य प्रदेश में कोविड-19 के नए मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. इन 6 राज्यों से 86.69 फीसदी फीसदी नए केस सामने आए हैं. जिसमें महाराष्ट्र और केरल में 75.87 फीसदी एक्टिव केस हैं.

मुंबई में कोरोना संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा देखने को मिला है और उसी वजह से बीएमसी ने बड़ा कदम उठाया है. महानगरपालिका ने 1305 इमारतों को सील कर दिया है. इन इमारतों में 71,838 परिवार रहते हैं.

मुंबई में 2749 केस आने के बाद बीएमसी ने यह फैसला लिया है. तीन दिन पहले मुंबई के लिए नई गाइडलाइन जारी की गई थी. इसमें कहा गया था कि यदि किसी बिल्डिंग में पांच या उससे ज्यादा कोरोना केस मिलते हैं तो पूरी बिल्डिंग को सील कर दिया जाएगा. भारत में अब तक कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम के तहत 1,10,85,173 लोगों को टीका लगाया जा चुका है.

गुजरात निगम चुनाव: अमित शाह बोले- कोरोना से किसान आंदोलन तक, विपक्ष की भ्रांतियों का जनता ने हर बार जवाब दिया

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*