महाराष्ट्र में 25 साल के शख्स ने मंदिर में अपना गला काटकर ‘शिवलिंग’ पर चढ़ाया खून, हुई मौत

औरंगाबाद: महाराष्ट्र के पैठण में एक 25 वर्षीय व्यक्ति ने शुक्रवार को कथित तौर पर एक मंदिर में अपना गला काटकर अपने खून को ‘शिवलिंग’ पर चढ़ाया. यह शख्स पैठण के महादेव मंदिर में मृत मिला था. पुलिस को शक है कि इस व्यक्ति ने अघोरी प्रथा के एक पार्ट के रूप में यह कठोर कदम उठाया.मरने वाले इस व्यक्ति की पहचान नंदू घुंगासे के रूप में हुई है. घुंगासे कहारवाड़ गांव का एक मछुआरा था. चार लोगों ने इस घटना देखा है.

पैठण शहर के गगभट्ट चौक में सिद्धि अली दरगाह के पास स्थित एक मंदिर में यह घटना हुई. बिहारी परदेशी नाम का एक व्यक्ति घटना के दिन पूजा करने के लिए मंदिर में गया और घुंगासे को वहां देखा.परदेशी ने तब घंटी बजाई और पुलिस को मामले के बारे जानकारी दी गई. पुलिस, घुंगासे को अस्पताल ले गई जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया.

घटना के वक्त मंदिर में मौजूद थे चार लोग

घटना के एक प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि घुंगासे ने मंदिर में अपना गला काटा और शिवलिंग पर अपना खून चढ़ाया. प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि उनमें से किसी ने भी उसको रोकने की कोशिश नहीं की, क्योंकि उन्हें मौत के लिए दोषी ठहराए जाने का डर था.

हालांकि शुरुआत में प्रत्यक्षदर्शी घटना डिटेल्स बताने के के लिए तैयार नहीं थे, लेकिन उनमें से एक ने बाद में पुलिस घटना की डिटेल्स बताई. घटनाओं की सीरीज का पता लगाने के लिए पुलिस ने चश्मदीदों के स्टेटमेंट्स को क्रॉस-चेक किया. यह शक है कि इस व्यक्ति ने अघोरी प्रथा के लिए यह कठोर कदम उठाया.

यह भी पढ़ें-
Exclusive: महाराष्ट्र में कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण का ब्लूप्रिंट तैयार, यहां जानें सब कुछ

दुनियाभर में अबतक 5 करोड़ कोरोना संक्रमित ठीक हुए, 24 घंटे में आए 6.26 लाख नए केस, 10 हजार मरीजों की मौत

 

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*