सेना प्रमुख एमएम नरवणे की सऊदी अरब यात्रा से रक्षा क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग होगा मजबूत: भारतीय सेना

रियादः सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे की ऐतिहासिक सऊदी अरब यात्रा से रक्षा क्षेत्र में द्विपक्षीय संबंध मजबूत होंगे. यह जानकारी सोमवार को भारतीय सेना ने दी. दो देशों के दौरे के दूसरे चरण में सऊदी अरब पहुंचे जनरल नरवणे भारतीय सेना के पहले प्रमुख हैं जिन्होंने सामरिक रूप से महत्वपूर्ण दो खाड़ी देशों की यात्रा की है. सऊदी अरब से पहले वह संयुक्त अरब अमीरात के दौरे पर थे.

सेना प्रमुख ने किया सऊदी अरब का दौरा

भारतीय सेना के अतिरिक्त जन सूचना महानिदेशालय ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘सीओएएस (सेना प्रमुख) के सऊदी अरब के दौरे से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय रक्षा सहयोग मजबूत होंगे.’’ दौरे के पहले दिन रविवार को जनरल नरवणे ने सऊदी के शीर्ष जनरलों से मुलाकात की जिनमें कमांडर ऑफ रॉयल सऊदी लैंड फोर्सेज जनरल फहद बिन अब्दुल्ला मोहम्मद अल मुतीर, चीफ ऑफ जनरल स्टाफ फैयाद बिन हामिद अल रूवाइली और संयुक्त बलों के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल मुतलाक बिन सलीम शामिल हैं. उन्होंने साझा हित के मुद्दों और द्विपक्षीय रक्षा सहयोग बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की.

सैन्य प्रशिक्षण के आदान-प्रदान पर विचार

जनरल नरवणे ने सोमवार को किंग अब्दुल अजीज सैन्य अकादमी का दौरा किया और सैन्य प्रशिक्षण पर विचारों का आदान-प्रदान किया. भारतीय सेना ने ट्वीट किया कि उन्होंने सऊदी सशस्त्र बल कमान और स्टाफ कॉलेज तथा नेशनल डिफेंस यूनिवर्सिटी का भी दौरा किया जहां उन्होंने शिक्षकों और छात्र अधिकारियों को संबोधित किया.

उनकी पत्नी वीणा नरवणे और अन्य प्रतिनिधियों ने रियाद में टीसीएस ऑल वूमेन सेंटर का दौरा किया. उन्होंने इस तरह की पहल से सऊदी अरब में लैंगिक सशक्तिकरण, निवेश और वृद्धि में टीसीएस की प्रतिबद्धता की प्रशंसा की. उन्होंने रियाद में प्रिंसेज नोराह यूनिवर्सिटी और विप्रो वूमेन बिजनेस पार्क का भी दौरा किया.

इसे भी पढ़ेंः

इस राज्य में 18 दिसंबर से खुलेंगे 10वीं और 12वीं के स्कूल, रेगुलर लगेंगी क्लासेस

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा- कृषि कानून किसान विरोधी हैं, महंगाई बेतहाशा बढ़ेगी

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*