Election Results Kerala 2020: केरल नगर निकाय चुनाव की काउंटिंग जारी, सीपीएम, कांग्रेस या बीजेपी कौन मारेगा बाजी

नई दिल्ली: केरल में निकाय चुनाव के लिए तीन चरणों में चुनाव कराए गए थे. आज वोटों की गिनती शुरू हो गई है. जानकारी के मुताबिक सबसे पहले पोस्टल बैलेट्स को गिना जा रहा है. इस बार पोस्टल बैलेट की संख्या ज्यादा है क्योंकि कोरोना वायरस के काऱण बहुत से लोग क्वारंटीन थे और उन्होंने अपने वोट पोस्ट से भेजे थे. राज्य के 244 केंद्रों पर वोटों की गिनती चल रही है. राज्य चुनाव आयुक्त का कहना है कि ईवीएम में पड़े वोटों की गिनती शुरू होने के बाद तस्वीर कुछ साफ हो सकेगी.

केरल में तीन चरणों में 1199 स्थानीय निकाय के चुनाव कराए गए थे. इसमें 941 ग्राम पंचायत, 152 ब्लॉक पंचायत, 86 नगर पालिका और 14 जिला पंचायतों के चुनाव हुए थे. इसके अलावा 6 नगर निगम के भी चुनाव कराए गए थे.

शुरुआती रुझानों ने सत्तारूढ़ मार्क्‍सवादी पार्टी के नेतृत्व वाले वाम दल बढ़त बनाए हुए है. कांग्रेस के नेतृत्व वाला यूडीएफ पहले दौर की मतगणना में बेहतर प्रदर्शन कर रहा है, जो सुबह 8 बजे शुरू हुआ, जबकि भाजपा ने जो प्रचार किया था, उस पर उसे खड़ा उतरना बाकी है.

  • कोच्चि कॉर्पोरेशन में चौंकाने वाला परिणाम देखने को मिला, जहां कांग्रेस के मेयर पद के उम्मीदवार एन. वेणुगोपाल भाजपा से सिर्फ एक वोट से हार गए.
  • प्रारंभिक रुझानों से संकेत मिलता है कि राज्य में छह निगमों में वामपंथी चार में आगे हैं और यूडीएफ दो निगमों में आगे है.
  • नगरपालिकाओं में यूडीएफ 47 सीटों पर आगे है, जबकि वाम 27 में और भाजपा 4 में आगे है.
  • 14 जिलों के मतों की बात करें तो वामपंथी आठ में आगे चल रहे हैं और यूडीएफ चार में आगे है.
  • जबकि ब्लॉक पंचायत में, वाम दल 23 में, यूडीएफ 52 और भाजपा एक में आगे है.
  • ग्राम पंचायतों में वाम दल 159 और यूडीएफ 144 और भाजपा 16 में आगे है.

केरल में निकाय चुनाव की पहले चरण के मतदान के लिए 395 स्थानीय निकायों में 6910 वार्ड में वोट डाले गए थे. जिन जिलों में मतदान किया गया था उनमें तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, अलाप्पुझा और इडुक्की शामिल हैं.

राज्य चुनाव आयोग के मुताबिक पहले चरण के चुनाव में 88,22,873 वोटर्स हैं. जिनमें 41,58,395 पुरुष और 46,68,267 महिलाएं थीं. इसके अलावा 61 ट्रांसजेंडर भी थे. चुनाव आयोग मुताबिक इनमें 150 एनआरआई 42530 फर्स्ट वोटर्स भी हैं. इस चुनाव के लिए 11225 पोलिंग बूथ बनाए गए थे. इसके अलावा 56122 लोगों को इलेक्शन ड्यूटी पर लगाया गया था.

केरल में स्थानीय निकाय चुनावों के तीसरे और अंतिम चरण का मतदान तीसरे और अंतिम चरण में 354 स्थानीय निकायों के 6,867 वाडरें में नए पदाधिकारियों को चुनने के लिए मतदान हुआ था. इसमें 22,151 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है. इसके लिए 10,842 मतदान केंद्रों पर मतदान हुा था, जिसके लिए 52,285 मतदान अधिकारी ड्यूटी में तैनात थे.

मां ने किया बेटी की अंगुली खाने का नाटक, सच मानकर बच्ची ने किया कुछ ऐसा, देखें मजेदार वीडियो

जंगल सफारी के दौरान बाघ को आया गुस्सा, फूल गए लोगों के हाथ-पांव, देखें हैरान करने वाला ये वीडियो

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*