बेटी के साथ दरिंदगी को याद कर फिर सिहर उठी निर्भया की मां, बोलीं- ‘इंसाफ के लिए लड़ी 8 साल लंबी लड़ाई’

16 दिसंबर 2012  को दिल्ली में हुई देश को झकझोर देने वाली घटना आज भी देश के लोगों को याद है. आज निर्भया गैंगरेप कांड की आठवीं बरसी है. 16 दिसंबर को निर्भया के साथ चलती बस में की गई हैवानियत को याद कर आज भी हर इंसान सिहर उठता है. हैवानियत भी ऐसी जो इससे पहले ना कभी देखी गई और ना ही सुनी गई. हालांकि निर्भया के दोषियों को उनके किए की सजा मिल चुकी है। लेकिन कुछ सवाल अभी भी बाकी हैं। कुछ दर्द अभी भी दिखाई देता है। ऐसा ही कुछ दर्द और सवाल बाकी हैं निर्भया के माता-पिता के मन में…

आठ साल बाद मिला बेटी को इंसाफ

हैवानों की दरिंदगी की वजह से अपनी बेटी को खो चुकी निर्भया की मां ने आज एक बार फिर अपने दिल का दर्द बयां किया है. हाल ही में एक मीडिया एजेंसी को दिए गए एक इंटरव्यू में निर्भया की मां ने बताया कि अपनी बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए उन्होंने आठ साल की लंबी लड़ाई लड़ी है. जिसके बाद उनकी बेटी को इंसाफ मिल पाया है. उन्होंने कहा कि,  बेटी को इंसाफ मिल गया है और चार दोषियों को फांसी हुई. साथ ही ये भी कहा कि हम आगे भी दूसरी बच्चियों के इंसाफ के लिए लड़ते रहेंगे.

इसके अलावा निर्भया की मां ने कहा कि हर साल अपनी बेटी की याद में हम जो कुछ भी करते थे वो इस बार नहीं करेंगे। इस साल कोरोना के कहर की वजह से निर्भया को श्रद्धांजलि देने के लिए किसी भी कार्यक्रम के आयोजन से उनकी मां ने इनकार किया है। हालांकि उन्होंने कहा कि ऑनलाइन प्रोग्राम करके निर्भया के श्रद्धांजलि दी जाएगी और उसे याद किया जाएगा।

ये भी पढ़ें-

School Reopen: देश के इन राज्यों में दिसंबर में ही खुल रहे हैं स्‍कूल और कॉलेज, देखें लिस्ट

Farmers Protest LIVE Updates: किसान आंदोलन का 21वां दिन, किसानों का आरोप- सरकार फूट डालने की कोशिश कर रही

 

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*