ममता बनर्जी पर AIMIM चीफ का पटलवार, कहा- ऐसा कोई पैदा नहीं हुआ जो असदुद्दीन ओवैसी को खरीद सके

लखनऊ: AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने ममता बनर्जी पर पलटवार किया है. ओवैसी ने कहा है कि ऐसा कोई इंसान पैदा नहीं हुआ जो असदुद्दीन ओवैसी को खरीद सके. दरअसल ममता बनर्जी ने कल जलपाई गुड़ी में रैली के दौरान के कहा था कि बीजेपी मुस्लिम वोट के बंटवारे के लिए ओवैसी पर करोड़ रुपये खर्च कर रही है.

ओवैसी ने लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, ”ऐसा कोई इंसान पैदा नहीं हुआ जो ओवैसी को पैसे से खरीद सके. उनके आरोप निराधार हैं, वह बेचैन हैं. उन्हें अपने घर की चिंता करनी चाहिए, उसके बहुत से लोग बीजेपी के साथ जा रहे हैं. उन्होंने बिहार वोटर और जिन्होंने हमें वोट दिया उनका अपमान किया है.”

ममता बनर्जी ने ओवैसी को लेकर क्या बोला था?

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को भाजपा पर आरोप लगाया कि वह असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम को बंगाल में लाने का प्रयास कर रही है ताकि सांप्रदायिक धुव्रीकरण बढ़ाया जा सके और हिंदू-मुस्लिम वोट उनके बीच बंट जाएं. ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मस्लिमीन (एआईएमआईएम) ने बिहार विधानसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद घोषणा कि थी की वह अगले साल होने वाले बंगाल चुनाव में भी उतरेगी.

बिहार चुनाव में एआईएमआईएम ने पश्चिम बंगाल की सीमा से लगे मुस्लिम बहुल सीमांचल क्षेत्र में पांच सीटें जीती थीं. बनर्जी ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मुस्लिम मतों को विभाजित करने के उद्देश्य से हैदराबाद की एक पार्टी को यहां लाने की खातिर भाजपा करोड़ों रूपये खर्च कर रही है. योजना है कि हिंदू मत भाजपा के पाले में चले जाएंगे और मुस्लिम मत हैदराबाद की इस पार्टी को मिल जाएंगे.’’

बंगाल में बवाल की खबरों के बीच आज चुनाव उपायुक्त का दौरा

पश्चिम बंगाल में मचे राजनीतिक घमासान के बीच केंद्रीय चुनाव आयोग आज तीन दिन के दौरे पर बंगाल में आ रहा है. चुनाव उपायुक्त सुदीप जैन जिन पर बंगाल में चुनाव कराने की जिम्मेदारी है. उनके साथ इलेक्शन कमिशन के एक अफसर बंगाल का दौरा करेंगे. राज्य में अशांति, हिंसा और कानून व्यवस्था को लेकर तरह तरह के आरोप हर रोज़ बीजेपी द्वारा लगाये जा रहे है. ये सारे आरोप कितने गंभीर हैं केंद्रीय चुनाव आयोग यह समझने की कोशिश कर रहा है.

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*