कृषि कानूनों का विरोध वही लोग कर रहे हैं, जो किसानों के हक पर डकैती डालते थे: सीएम योगी

बरेली: कृषि कानूनों पर किसानों से संवाद के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बृहस्पतिवार को बरेली पहुंचे. यहां उन्होंने 981 करोड़ रुपये की 111 विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया. इस दौरान सीएम योगी ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला. सीएम योगी ने कहा कि कृषि कानूनों का विरोध वही लोग कर रहे हैं, जो किसानों के हक पर डकैती डालते थे. उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है कि किसानों को उनका हक मिल रहा है.

हम डरेंगे नहीं

सीएम ने कहा कि हम सत्य के मार्ग पर चलने वाले हैं. हम डरेंगे नहीं. जिन्हें किसानों का हित नहीं पसंद है, वही नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. नए कृषि कानूनों के बारे में सीएम ने कहा कि मोदी सरकार आने से पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि खेत से लेकर खलिहाल तक, बीज से लेकर बाजार तक चेन विकिसत करेंगे जो किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करेगी. इसी पक्रिया के तरह पीएम ने कानून बनाया है.

किसानों के सीधा लाभ दिया जा रहा है

यूपी के सीएम ने कहा कि विपक्ष को परेशानी है किसान को सीधा लाभ देने में क्योंकि ये वही लोग हैं जो किसानों के हक में डकैती डालते थे. किसानों के लिए 100 रुपये दिया जाता था 90 रुपये चट कर जाते थे. इसे रोका जा रहा है तो उन्हें परेशानी हो रही है. बिचौलिये और दलालों को बाहर किया जा रहा है. किसानों के सीधा लाभ दिया जा रहा है.

विपक्ष किसानों को गुमराह कर रहा है

सीएम ने कहा कि जिन्हें पसंद नहीं कि एक भारत श्रेष्ट भारत बन रहा है वही इन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. योगी ने कहा कि एक जगह धरना चल रहा है, मांग हो रही थी कि एमएसपी दी जाए. तीन कानून इससे संबंधित किए गए जिसमें एमएसपी बढ़ाने का काम किया. विपक्ष किसानों को गुमराह कर रहा है. जो लोग आस्था के साथ खिलवाड़ करते थे, अब उन्हें बुरा लग रहा है.

विपक्ष अयोध्या जाने से डरता था

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विपक्ष को बर्दाश्त नहीं है कि अयोध्या में भगवान राम का मंदिर क्यों बन रहा है? उन्हें परेशानी है कि पीएम ने भव्य मंदिर का शिलान्यास कर दिया है. विपक्ष लोगों को आपस में लड़ाते थे, भटकाते थे. हर स्तर पर प्रयास करते थे कि किसी भी व्यक्ति को इस मुद्दे को उठाने न दिया जाए. विपक्ष अयोध्या जाने से डरता था और पीएम ने खुद जाकर मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास किया.

धारा 370 को लेकर बोले सीएम योगी

1952 में कांग्रेस ने धारा 370 लगा दी. जम्मू कश्मीर में जाने वालों के परमिट लेना जरूरी कर दिया था. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नेतृत्व में आंदोलन चलाया गया और उन्हें बलिदान देना पड़ा. पीएम और गृहमंत्री ने धारा 370 हटाई. जम्मू-कश्मीर में चार परिवार पूरा बजट हजम कर जाते थे.

कृषि कानूनों का विरोध वही लोग कर रहे हैं, जो किसानों के हक पर डकैती डालते थे: सीएम योगी

चुनिंदा लोगों को किसानों की खुशहाली पसंद नहीं

योगी ने कहा कि विपक्ष और कुछ चुनिंदा लोग हैं जिन्हें किसानों की खुशहाली अच्छी नहीं लगती है. ये वही लोग हें जिन्होंने कभी भी किसानों की उपज को नहीं खरीदा. यूपी में बीजेपी की सरकार आई तो सबसे पहली कैबिनेट में 46 लाख किसानों की कर्ज माफी की. 36 हजार करोड़ की जो कर्ज माफी की गई उसका सर्टिफिकेट भी दिया गया. सीधे अकाउंट में रुपये भेजे गए. विपक्ष को कोई मुद्दा नहीं मिला तो एक झूठ को बार-बार बोलकर अपनी बात सिद्ध करने में लगा है.

कृषक भाई हमारे अन्नदाता हैं

किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानों के हित के लिए विभिन्न योजनाएं चला कर उनको लाभान्वित किया है. उन्होंने कहा कि कृषक भाई हमारे अन्नदाता हैं, उनके हितों के लिए केन्द्र और प्रदेश सरकार लगातार कार्य कर रही है. उन्होंने कहा कि कृषक भाईयों की आय 2022 तक दोगुनी करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है.

किसानों की जमीन कोई नहीं ले सकता

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का प्रयास है कि किसानों को उनकी उपज का सही दाम मिले, इसके लिए क्रय केन्द्र स्थापित किए गए हैं उन्होंने कहा कि कृषक भाईयों को उनकी उपज का उचित दाम मिले इसके लिए प्रतिस्पर्धात्मक प्रक्रिया की आवश्यकता है और नए कृषि कानूनों में इस व्यवस्था का प्रावधान शमिल है. सीएम ने कहा कि विपक्ष के लोग किसानों को गुमराह कर रहे हैं, ये वही लोग हैं जिन्हें किसानों की खुशहाली अच्छी नहीं लगती. उन्होंने कहा कि किसानों की जमीन कोई नहीं ले सकता, न्यूनतम समर्थन मूल्य पूर्व की भांति रहेगा. उन्होंने याद दिलाया कि उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों का जितना भुगतान उनकी सरकार में किया गया है, उतना भुगतान इससे पूर्व कभी नहीं हुआ.

कृषि कानूनों का विरोध वही लोग कर रहे हैं, जो किसानों के हक पर डकैती डालते थे: सीएम योगी

बरेली का एयरपोर्ट जल्द शुरू होगा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बरेली में 111 विकास योजनाओं एवं परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया. इस मौके पर उन्होंने कहा कि विकास की परियोजनाएं व्यापक परिवर्तन करने वाली है और स्थानीय प्रगति की प्रतीक भी, इसके लिए बरेली वासियों को उन्होंने बधाई भी दी. इस अवसर पर सीएम ने कहा कि बरेली का एयरपोर्ट जल्द ही शुरू कर दिया जाएगा. मुख्यमंत्री ने ‘बरेली-विकास की ओर अग्रसर’ पत्रिका विमोचन भी किया.

ये भी पढ़ें:

‘ग्लोबल ब्रांड’ के रूप में उभरेगा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, सीएम योगी ने Logo और डिजाइन को दी मंजूरी

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने किया हरित क्रान्ति लाओ योजना का लोकार्पण

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*