पुतिन के जहर देने की बात को विपक्ष के नेता ने उछाला, खुद पुतिन ने किया खारिज

रूस में विपक्षी पार्टी के नेता और भ्रष्टाचार विरोधी कार्यकर्ता एलेक्सी नवाल्ने ने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पर जहर देकर जान से मरवाने की कोशिश का आरोप लगाया है. उधर, पुतिन ने दावा किया है कि एलेक्सीन अमेरिका की स्पेशल सर्विस का आनंद उठा रहे हैं. रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि अगर उन्हें मारना ही होता तो उन्हें कब का खत्म कर चुके होते.

गौरतलब है कि एलेक्सी तोमस्क से 20 अगस्त को मॉस्को जाने के लिए फ्लाइट में बैठे थे लेकिन यात्रा के दौरान वे अचानक बेहोश हो गए थे. उन्हें जहर दिया गया और मरने जैसी हालत हो गई थी. इसके बाद इस फ्लाइट की इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी थी और वे जर्मनी के अस्पताल में भर्ती हुए थे. हालांकि, क्रेमलिन ने जहर देने की संलिप्तता से खुद को लगातार इनकार किया है.

इस हफ्ते बेलिंगकैट नाम की इंवेस्टिगेटिव वेबसाइट की रिपोर्ट में रूस की खुफिया एजेंसी FSB के कुछ लोगों की पहचान की है. FSB के इन लोगों पर आरोप है कि उन्होंने एलेक्सी पर ये हमला किया है और वे पिछले तीस दौरे से एलेक्स को ट्रैक कर रहे थे. FSB पर आरोप लगाया गया है कि इस संस्था ने एलेक्‍सी का तब पीछा करना शुरू किया जब उन्‍होंने साल 2018 में पुतिन को चुनाव में चुनौती देने का ऐलान किया था. वही इस मामले में जर्मनी के जांचकर्ताओं का कहना था कि उन्हें नोविचोक नाम का जहर दिया गया था जो एक नर्व एजेंट है और इसे 70 के दशक में सोवियत यूनियन द्वारा बनाया गया था.

एलेक्सी ने आगे कहा कि पुतिन को ऐसा लगता है कि मुझे मारकर वह हमारी संस्था या आंदोलन को रोक लेंगे. मुझे नहीं पता कि उनके दिमाग में क्या चल रहा है लेकिन ये साफ है कि मैं पहला इंसान नहीं हूं जिसे उनके द्वारा इस तरह जहर देने की कोशिश की गई हो और ना ही आखिरी होने जा रहा हूं. पुतिन पिछले बीस साल से सत्ता में हैं. 20 साल काफी होते हैं किसी का भी दिमाग खराब करने के लिए. उन्हें लगता है कि वो कुछ भी कर सकते हैं. पुतिन रूस का सम्राट बनना चाहते हैं. अपने विरोध में आई हर आवाज को पुतिन दबा देते हैं.

ये भी पढ़ें: पुतिन पर नहीं चल पाएगा कोई आपराधिक केस, सभी रूसी नेताओं का विधेयक को समर्थन  

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*