Shani Dev: शनि साढ़ेसाती, शनि की ढैय्या और शनि की महादशा से परेशान हैं तो शनिवार को करें ये उपाय

Shani Ki Dhaiya 2020: शनिदेव की दृष्टि ज्योतिष शास्त्र में शुभ नहीं मानी गई है. शनि जब किसी भी व्यक्ति के जीवन में अशुभ होते हैं तो उस व्यक्ति को राजा से रंक बना देते हैं. कष्टों से व्यक्ति परेशान हो जाता है. उसका जमा जमाया बिजनेस नष्ट हो जाता है. जॉब छूट जाती है. करियर में बाधाएं आने लगती है. गंभीर रोग भी हो सकता है. शनि तलाक और संबंध विच्छेद का कारण भी बन जाता है. इसलिए शनि देव को प्रसन्न रखना बहुत ही जरूरी हो जाता है.

ज्योतिष में शनि देव

ज्योतिष शास्त्र में 9 ग्रहों में शनि को क्रूर ग्रह माना गया है. शनि सूर्य देव के पुत्र हैं. लेकिन शनि की अपने पिता से नहीं बनती है. सूर्य से शनि का संबंध अच्छा नहीं है. शनि देव को न्याय का देवता भी कहा गया है. ऐसा माना जाता है कि शनि देव व्यक्ति को उसके कर्मांे का फल प्रदान करते हैं.

शनि ऐसे लोगों को अधिक परेशान करते हैं

शनि देव उन लोगों को अधिक परेशान करते हैं, जो अपने अधिकारों को गलत प्रयोग करते हैं. गरीब, मजदूर और निर्धन लोगों को सताते हैं. कमजोर वर्गों को सताने से शनि बहुत नाराज होते हैं और शनि की ढैय्या और शनि की साढे़साती आने पर शनि ऐसे लोगों को पद, धन और सेहत का नुकसान करते हैं.

मिथुन और तुला राशि पर शनि की ढैय्या है

ज्योतिष गणना के अनुसार मिथुन राशि और तुला राशि पर शनि की ढैय्या चल रही है. इसलिए इन राशि वालों को कोई भी ऐसा कार्य नहीं करना चाहिए जिससे शनि देव नाराज हों, और अशुभ फल प्रदान करने लगें.

धनु, मकर और कुंभ राशि पर शनि की साढ़ेसाती है

धनु राशि, मकर राशि और कुंभ रशि पर साढ़ेसाती चल रही है. वर्ष 2021 में शनि की चाल में कोई परिवर्तन नहीं होने जा रहा है. शनि मकर राशि में विराजमान हैं.

शनि का उपाय

शनिवार का दिन शनि देव का दिन माना जाता है. इस दिन नजदीकी शनि मंदिर में नीले लाजवंती का फूल, तिल, तेल, गु़ड़ शनि देव के अर्पित करना चाहिए. इस दिन शनि पर सरसों का तेल चढ़ाना चाहिए और दीप प्रज्वलित करें. शनिवार को पीपल की जड में जल देना चाहिए और सूत्र बांधकर सात बार परिक्रमा करनी चाहिए. शनिवार को उड़द दाल का दान करना चाहिए. इस दिन निर्धन और जरूरतमंद लोगों को काला कंबल दाना करना चाहिए.

रामायण: भगवान राम और सीता का विवाह कब हुआ था? लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न का विवाह किससे हुआ था, जानें

बुध गोचर 2020: धनु राशि में सूर्य के साथ आ चुके हैं ग्रहों के राजकुंवर बुध ग्रह, बना रहे हैं शुभ योग, जानें राशिफल

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*