IND Vs AUS: टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में भारत का सबसे खराब प्रदर्शन, बनाया सबसे कम रन का रिकॉर्ड

टीम इंडिया ने टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में अबतक का सबसे खराब प्रदर्शन किया है. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में महज 36 रन पर भारतीय पारी खत्म हो गई. कमिंस की गेंद मोहम्मद शमी की कलाई में लगी और वह रिटायर हर्ट होकर पवेलियन लौट गए. टीम इंडिया का यह टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में न्यूनतम स्कोर है. इससे पहले टेस्ट क्रिकेट में इंडिया का न्यूनतम स्कोर 42 रन था.

टीम इंडिया का कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकाड़ा पार नहीं कर पाया. मयंक अग्रवाल ने सबसे ज्यादा 9 रन बनाए, जबकि विहारी 8 रन बनाने में कामयाब रहे. पुजारा, रहाणे और अश्विन खाता भी नहीं खोल पाए. ऑस्ट्रेलिया की ओर से हेजलवुड ने सिर्फ 8 रन खर्च कर 5 विकेट लिए, जबकि कमिंस 21 रन देकर चार विकेट लेने में कामयाब रहे.

ऑस्ट्रेलिया के सामने मैच में जीत दर्ज करने के लिए सिर्फ 90 रन की चुनौती है. भारतीय बल्लेबाजों ने बेहद निराश किया है. दूसरे दिन का खेल खत्म होने पर 62 रन की बढ़त बना चुकी टीम इंडिया ने ऐसा सपने में भी सोचा होगा कि तीसरे दिन उसका इतना बुरा हाल होने वाला है. टीम इंडिया के पास दूसरी पारी में कुल बढ़त 100 रन की भी नहीं हुआ है और अपने 9 विकेट गंवा दिए हैं. उससे बड़ी बात यह है कि इंडियन क्रिकेट टीम पर टेस्ट क्रिकेट में सबसे कम स्कोर पर आउट होने का खतरा मंडरा रहा है.

टेस्ट मैच में भारत का सबसे कम स्कोर

आज एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में टीम इंडिया 36 रन ही बना पाई. इससे पहले भारत ने साल 1974 में लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ सबसे कम 42 रन बनाए थे. यह टेस्ट क्रिकेट में पांचवां न्यूनतम स्कोर है. 1947 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिसबेन में भारत ने 58 रन बनाए थे. 1952 में भी भारत ने मैनचेस्टर में इंग्लैंड के खिलाफ केवल 58 रन बनाए थे. रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के नाम पर है जिसने 1955 में इंग्लैंड के खिलाफ आकलैंड में 26 रन बनाए थे.

ये भी पढ़ें-

एसोचैम को संबोधित करते हुए बोले PM मोदी- आगे बढ़ने के लिए भारत नए रास्ते बना रहा

देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ के पार, लगातार छठे दिन 30 हजार से कम आए नए केस

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*