बिहार: पीपा पुल हादसे में नौ लोगों की मौत पर CM नीतीश कुमार ने जताया दुख, मुआवजे का किया एलान

पटना: बिहार की राजधानी पटना से सटे दानापुर स्थित पीपा पुल पर शुक्रवार को बड़ा हादसा हो गया. पुल से सवारी गाड़ी के गंगा नदी में गिरने की वजह से 9 लोगों की मौत हो गई. हादसे में इतने लोगों की मृत्यु पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरा दुख व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा, ” यह दुर्घटना काफी दुखद है और मैं इस घटना से मर्माहत हूं.” 

सीएम नीतश ने मुआवजे का किया एलान 

मुख्यमंत्री ने इस हादसे में मारे गए लोगों के आश्रितों को अविलंब 4-4 लाख रुपये अनुग्रह अनुदान देने का निर्देश दिया है. साथ ही मुख्यमंत्री ने शोक संतप्त परिवारों को दुख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है. 

बता दें कि शुक्रवार की सुबह दानापुर से 12 से अधिक सवारियों को लेकर दियारा के लिए निकली जीप बीच पीपा पुल पर हादसे का शिकार हो गई. जीप पुल की रेलिंग को तोड़ते हुए गंगा नदी में समा गई. घटना के बाद मौके पर सैकड़ों लोग जमा हो गए. घटना की सूचना पुलिस को दी गई. 

हादसे में नौ लोगों की मौत

हादसे की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और जीप सवार लोगों की तलाश में जुट गई. घटना के संबंध में पटना डीएम ने बताया कि जीप गंगा में लगभग सवा नौ बजे डूबी. घटना के बाद खोज शुरू हुई और 9 शवों को जीप से एसडीआरएफ के गहरे गोताखोरों द्वारा निकाला गया है. डीएम के अनुसार जीप पानी में लगभग 25 फीट नीचे चली गई थी. ऐसे में जीप को सतह पर लाया गया. एसडीआरएफ के गोताखोर सीटी ललन और एसआई अशोक यादव लोगों को ढूंढने में जुटे हुए हैं.

मिली जानकारी अनुसार जीप में सवार सभी अकिलपुर निवासी भारत सिंह के परिवार के परिवार के सदस्य थे. मृतको में रमाकांत सिंह, पत्नी गीता देवी, अरविंद सिंह, उमाकांत सिंह की पत्नी, अनुरागो देवी, पोता-पोती, सरोज देवी समेत अन्य लोग शामिल हैं. स्थानीय लोगों की मानें तो पीपा पुल की जर्जर स्थिति की वजह से ये घटना हुई है. जीप भी जर्जर बताई जा रही है.

यह भी पढ़ें –

बिहार: सवारियों को लेकर जा रही जीप गंगा नदी में डूबी, 9 लोगों की मौत, कई लापता

बिहार में एक महीने में करीब 19 फीसदी लुढ़का रिकवरी रेट, लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना मरीज

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*