ममता के गढ़ में सेंध लगाने बंगाल पहुंचे डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, 30 विधानसभा क्षेत्रों का करेंगे दौरा

लखनऊ. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के गढ़ में सेंध लगाने के लिए यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य शनिवार को बंगाल पहुंच चुके हैं. बीजेपी के मिशन पश्चिम बंगाल के चुनावी अभियान की रणनीति तैयार करने के लिए केशव प्रसाद मौर्य प्रदेश में शनिवार से दो दिवसीय दौरे पर रहेंगे. वो पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक के दौरान उनको बूथ मैनेजमेंट का पाठ पढ़ाएंगे.

बीजेपी की ओर से ममता बनर्जी के गढ़ में सेंध लगाने के लिए मैदान में केशव प्रसाद को उतारा गया है. बीजेपी ने प्रदेश में भगवा लहराने के लिए इस बार खास तैयारी की है. पार्टी ने बंगाल के विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अपना प्लान तैयार कर लिया है. इस दौरान वहां पर उत्तर प्रदेश के कार्यकर्ताओं को भी लगाने की तैयारी चल रही है.

30 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा करेंगे मौर्या

बीजेपी केशव प्रसाद मौर्य को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ पश्चिम बंगाल चुनाव में स्टार प्रचारक के तौर पर प्रमोट कर रही है. आज से डिप्टी सीएम भी दो दिवसीय दौरे पर बंगाल में हैं. मौर्य को संगठन से पश्चिम बंगाल की लोकसभा और विधानसभा क्षेत्रों की जिम्मेदारी मिली है. वह हावड़ा, उलबेरिया, सिरामपुर, हुगली, अरामबाग लोक सभी की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं. इसके साथ ही वह लगभग 30 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा करेंगे.

हिंदी भाषी वोटों पर रहेगी नजर

डिप्टी सीएम पश्चिम बंगाल में हिंदी भाषी वोट साधेंगे. वह सघन प्रचार अभियान चलाने के साथ ही बूथ कमेटी की बैठक करेंगे. पश्चिम बंगाल के बीजेपी कार्यकर्ता व नेताओं के साथ मौर्य प्रचार अभियान में भी भाग लेंगे. पश्चिम बंगाल में बड़ी संख्या में हिन्दी भाषी क्षेत्रों के लोग भी रहते हैं. इनमें पूर्वी उत्तर प्रदेश के जिलों की संख्या अच्छी खासी है. सूत्रों की मानें तो मुख्यमंत्री योगी व महामंत्री संगठन सुनील बंसल के अलावा पूर्वांचल के प्रमुख नेताओं को प्रचार के लिए लगाया जाएगा.

ये भी पढ़ें:

यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा जारी, सॉल्वर गैंग पर STF की पैनी नजर, इन 11 जिलों में बनाए गए केंद्र

Farmers Protest: किसान आंदोलन के समर्थन में बागपत की खाप पंचायत, दिल्ली-सहारनपुर हाइवे जाम करने का ऐलान

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*