बंगाल में 7वें चरण के दौरान 75% से ज्यादा मतदान, वोट डालने के बाद CM ममता बनर्जी ने दिखाया जीत का निशान

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के सातवें चरण में सोमवार को 34 सीटों पर वोटिंग हुई. कोरोना महामारी के बीच वोटिंग के दौरान वोटरों में जबरदस्त उत्साह देखा गया और शाम साढे पांच बजे तक 75.06 फीसदी ने वोट डाले. इस चरण के दौरान 284 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला मतपेटी में बंद हो गया. सातवें चरण के दौरान मुर्शिदाबाद और पश्चिम वर्द्धमान जिलों के 9-9, दक्षिण दिनाजपुर और मालदा जिलों के 6-6 और कोलकाता दक्षिण के 4 सीटों पर वोट डाले गए.

कहां कितनी वोटिंग?

साउथ दिनाजपुर में 80.21 फीसदी वोटिंग हुई, जबकि मालदा में 78.76 फीसदी लोगों ने वोट डाले. मुर्शिदाबाद में 80.30 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया जबकि कोलकाता में 59.91 फीसदी वोट पड़े. तो वहीं, पश्चिम बर्धवान में 70.34 फीसदी ने लोगों ने वोट डालकर लोकतंत्र के पर्व में हिस्सा लिया.

व्हील चेयर से ममता ने किया वोट

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य विधानसभा के लिए हो रहे सातवें चरण के चुनाव के दौरान सोमवार को कोलकाता के भवानीपुर में मतदान किया. बनर्जी का निवास स्थान हरीश चटर्जी मार्ग पर है और उन्होंने अपने मताधिकार का इस्तेमाल दोपहर करीब तीन बजकर 50 मिनट पर मित्रा इंस्टीट्यूशन स्कूल में बने मतदान केंद्र में किया.

वोट के बाद ममता ने दिखाया जीत का निशान

व्हीलचेयर पर मतदान करने आईं ममता बनर्जी मतदान केंद्र से बाहर आने और कार में सवार होने से पहले ‘दीदी-दीदी’ चिल्लाने पर कुछ समय के लिए फोटो पत्रकारों के सामने रुकीं. उन्होंने कैमरे के सामने जीत का निशान दिखाया. बनर्जी दो बार भवानीपुर विधानसभा सीट से विधायक रहीं है लेकिन इस चुनाव में वह पूर्वी मिदिनापुर जिले के नंदीग्राम सीट से भाजपा के शुभेंदु अधिकारी के खिलाफ लड़ रही हैं.

भवानीपुर में टीएमसी ने सोभनदेब चटोपाध्याय को उतारा

इससे पहले तृणमूल कांग्रेस के सांसद और ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने भी इसी मतदान केंद्र पर अपने मताधिकार का प्रयोग किया. तृणमूल कांग्रेस ने भवानीपुर सीट से अपने वयोवृद्ध नेता सोभनदेब चटोपाध्याय को उतारा है जबकि उनके खिलाफ भाजपा की सेलिब्रिटी प्रत्याशी रुद्रनील घोष मैदान में हैं. वाम नीत मोर्चे ने यहां से कांग्रेस के शादाब खान को प्रत्याशी बनाया है.

ये भी पढ़ें:  ममता बनर्जी बोलीं- बंगाल में कोरोना प्रसार के लिए जिम्मेदार केंद्रीय बलों को वापस बुलाना चाहिए, मद्रास HC की टिप्पणी का किया जिक्र

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*