Weather Update: दिल्ली में इस मौसम का सबसे कम तापमान दर्ज, आज के बाद सुधर सकते हैं हालात

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को कड़ाके की ठंड का प्रकोप जारी रहा और न्यूनतम तापमान गिरकर 3.9 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया जो कि इस मौसम में अब तक का सबसे कम तापमान है. मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के एक अधिकारी ने कहा, “सफदरजंग वेधशाला में तापमान सामान्य से चार डिग्री नीचे 3.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. अधिकतम तापमान 21.8 डिग्री सेल्सियस रहा.” लोधी नगर में तापमान 3.3 डिग्री सेल्सियस और आयानगर मौसम केंद्र पर 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

आईएमडी की ओर से बताया गया कि बर्फ से ढंके पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र से चलने वाली बर्फीली हवाओं के कारण शहर में ठंड का प्रकोप बरकरार है. शहर में गुरुवार को ‘बेहद’ ठंडा दिन दर्ज किया था क्योंकि अधिकतम तापमान गिरकर 15.2 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था जो कि सामान्य से सात डिग्री कम था और इस मौसम का सबसे कम तापमन था. शुक्रवार को अधिकतम तापमान 19.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अनुसार, अगले पांच से छह दिन तक न्यूनतम तापमान करीब पांच डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है.

भारी बर्फबारी और ठंड में केदारनाथ की सुरक्षा व्यवस्था संभाल रहे पुलिस के जवान

भारी बर्फबारी के बावजूद भी विश्व विख्यात भगवान केदारनाथ के मंदिर की सुरक्षा में पुलिस के जवान जुटे हैं. केदारनाथ पैदल मार्ग के भीमबली से सप्ताह में एक दिन पुलिस के जवान केदारनाथ की रेकी करने के लिए जा रहे हैं और केदारनाथ धाम में रह रहे साधु-संतो की खबर लेकर भी आ रहे हैं. पुलिस के चार जवानों को आधुनिक हथियारों के साथ बाबा केदार की सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है.

विश्व प्रसिद्ध हिम क्रीड़ा स्थल औली में पर्यटकों का आवागमन तेज

मौसम के बदलते मिजाज के साथ पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी शुरू होते ही विंटर डेस्टिनेशन कहे जाने वाले औली में हिम प्रेमियों का जमावड़ा जमना भी शुरू हो गया है. विश्व प्रसिद्ध हिम क्रीड़ा स्थल औली में देश-विदेश के पर्यटक भारी मात्रा में पहुंचने लगे हैं कहने को तो पहाड़ी क्षेत्रों में इस वक्त ठंड की भरमार है परंतु औली का दीदार करने आए पर्यटक बिना ठंड की परवाह किए औली की बर्फीली वादियों का खूब लुफ्त उठा रहे हैं.

यू तो विश्व प्रसिद्ध हिम क्रीडा स्थल औली में हिम प्रेमियों का पहुंचना दिसंबर माह की शुरुआत में ही प्रारंभ हो जाता है. लेकिन जैसे-जैसे ठंड बढ़ने पर औली की वादियां और अधिक सफेद होने लगती हैं वैसे ही हिम प्रेमि भी औली की वादियों की तरफ रुख करने लगते हैं. हिम प्रेमियों के हृदय में औली की महत्वता इतनी है कि हिम प्रेमि नव वर्ष भी औली में ही मनाना पसंद करते हैं. ध्यान में रहे कि प्रतिवर्ष 31 दिसंबर को औली पर्यटकों से गुलजार रहता है.

ठंड के बीच आइस स्केटिंग रिंग में शुरू हुई स्केटिंग

हिमाचल में कड़ाके की ठंड पड़ रही है. अधिकतर क्षेत्रों में तापमान माइनस डिग्री चल रहा है. ठंड से पानी जम रहा है लोग ठंड से बचने के आग का सहारा ले रहे हैं. तापमान में आई गिरावट से शिमला के आइस स्केटिंग रिंग में बर्फ जम गई है. भले ही हिमाचल में मौसम साफ है लेकिन प्रचंड ठंड से सामान्य जन जीवन अस्त व्यस्त है. फिलहाल बच्चे मॉर्निंग सेक्शन में ही आई स्केटिंग कर पा रहे हैं. लेकिन पंकज प्रभाकर का कहना है कि अगर आने वाले समय में मौसम साथ देता है और तापमान में गिरावट बनी रहती है तो बच्चे शाम के समय भी आइस स्केटिंग कर सकेंगे.

कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए उपायुक्त आदित्य नेगी ने आइस स्केटिंग क्लब के लिए गाइडनाइन्स जारी की है. जिसमें केवल 50 बच्चे ही एक समय पर आइस स्केटिंग कर पाएंगे. कोरोना संक्रमण से बचाव के सभी नियमों की पालना के साथ आइस स्केटिंग की जाएगी.

ये भी पढ़ें-

यूपी: धान खरीद को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया ट्वीट, ‘किसानों को फसल बेचने में न हो असुविधा, अफसर करें निरीक्षण’

TMC या फिर BJP, पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में किसे मिलेगा मतुआ समुदाय के वोटरों का साथ?

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*