KBC 12: अमिताभ बच्चन ने याद किया बचपन का किस्सा, बोले- स्कूल में बोला था सांप मारने का झूठ, प्रिंसिपल ने कर दी थी पिटाई

कौन बनेगा करोड़पति के होस्ट अमिताभ बच्चन ने गेम शो के लेटेस्ट एपिसोड में अपने बचपन का किस्सा याद किया. करमवीर एपिसोड में गेस्ट बोमन ईरानी ने अमिताभ बच्चन से पूछा था कि जब वह छोटे थे तो किस तरह के बच्चे थे. इसके बाद अमिताभ बच्चन ने अपने बोमन को ईरानी और ऑडियंस के साथ अपने बचपन का एक किस्सा शेयर किया.

अमिताभ बच्चन ने याद करते हुए कहा,”मैं बहुत डरपोक था. बहुत सी चीज हम करते थे जो चोरी छुपे करते थे और कभी बताते नहीं थे किसी को.” एक दिन अमिताभ बच्चन और उनके दोस्त पर एक सांप ने हमला कर दिया. जिसकी वजह से वह दोनों भागने लगे, लेकिन उन्होंने देखा कि सड़क की एक तरफ सांप मारने वाला एक शख्स बैठा है और उसने सांप को मार दिया.

सांप को मारने का झूठ

अमिताभ बोले,”मार दिया तो हमको लगा कि बहुत बड़ी चीज हो गई.” इसके बाद उन्होंने मरे हुए सांप को अपनी हॉकी स्टिक से उठाया और स्कूल के चारों तरफ घूमना शुरू कर दिया और लोगों से कहा कि सांप को उन्होंने मारा है. लेकिन स्कूल के प्रिंसिपल खुश नहीं थे. बिग बी ने कहा,”हमारे प्रिंसिपल ब्रिटिशर थे तो एक ब्रिटिश माहौल था. सच्चाई बहुत जरूरी होती थी.”

तेल में भिगी स्टिक से पिटाई

अमिताभ ने आगे कहा,”वह अक्सर कहते थे,’आप जानते हैं कि आपने क्या गलत किया है?’ ‘जी,सर’ ‘मैं आपको छह कट देने जा रहा हूं.” इसके बाद अमिताभ बच्चन दंड की जानकारी देते थे. वह कहते हैं कि स्कूल में एक गैराज था जहां तेल में भिगो कर एक स्टिक रखी थी. अमिताभ और उनके दोस्तों को एक व्हीलचेयर पर झुकने के लिए कहा गया था, और उनकी पीठ पर जोर मार पड़ती थी.

बहुत दर्द होता था

वह आगे कहते हैं,”सांस निकल जाती थी, इतना दर्द होता था. लेकिन कार्यक्रम ये होता था कि खड़े होकर  बोलना पड़ता था, ‘थैंक्यू सर’.”  अमिताभ बच्चन ने शेरवुड कॉलेज, नैनीताल और किरोड़ीमल कॉलेज, दिल्ली यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है.

ये भी पढ़ें-

Govinda Birthday: 5 स्टार होटल में नौकरी करना चाहते थे गोविंदा, ‘अंग्रेजी’ की वजह से नहीं मिला काम

Inside Video: अंकिता लोखंडे के बर्थडे पार्टी में पहुंचे संदीप सिंह, भड़के सुशांत सिंह राजपूत के फैंस बोले- ये है असली चेहरा

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*