SSR Case: क्या सुशांत सिंह राजपूत को मिल पाएगा न्याय? शेखर सुमन बोले- CBI के पास सबूतों की कमी

सुशांत सिंह राजपूत केस में सीबीआई, ईडी और एनसीबी अलग-अलग एंगल से जांच कर रही हैं. सुशांत के परिवार को न्याय दिलाने की मांग करने वाले होस्ट और एक्टर शेखर सुमन ने पिछले हफ्ते उन लोगों से माफी मांगने के लिए कहा, जो उनपर सुशांत सिंह राजपूत केस को के जरिए अपना राजनीतिक करियर मजबूत करने आरोप लगा रहे थे. अब केस को लेकर एक और बयान दिया है और यह सुशांत सिंह राजपूत फैंस के लिए ठीक नहीं है.

शेखर सुमन के मुताबिक जांच एजेंसी सुशांत सिंह राजपूत केस में निष्पक्ष रूप से जांच कर रही है, लेकिन सबूतों की कमी की वजह से वह असहाय हो रहे हैं. उन्होंने ट्वीट कर लिखा,”मुझे लगता है कि सुशांत केस में सीबीआई, ईडी और एनसीबी निष्पक्ष तौर पर बेहतर तरीक से जांच, पूछताछ और गिरफ्तारी कर रही है लेकिन मुझे लगता है कि सबूतों की कमी के वजह वह असहाय है. तो हमें सिर्फ इंतजार करते हैं और देखते हैं क्या वह लकी साबित होते हैं.”

यहां देखिए शेखर सुमन ने किया ट्वीट-

सीबीआई को देर से मिला केस

इससे पहले, शेखर सुमन ने कहा कि सीबीआई को देरी से जांच सौंपने पर भी सवाल उठाए. उन्होंने ट्वीट कर लिखा,”हम सीबीआई पर बहुत ज्यादा विश्वास करते हैं. मुझे लगता है सीबीआई ने सबकुछ किया होगा… लेकिन केस को काफी देर से सीबीआई को सौंपा गया जिसकी वजह से वह कुछ नहीं कर पाए. उन्होंने कुछ सबूतों कों ढूंढ़ने में काम काफी मेहनत की है लेकिन मुझे अंदाजा है कि वह बहुत देरी हो चुकी है.”

14 जून को किया सुसाइड

सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून, 2020 को अपने बांद्रा स्थित घर में आत्महत्या कर ली थी. कथित तौर पर, वह कुछ महीनों से अवसाद से पीड़ित थे. पुलिस को अभिनेता के घर से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बारे में सीबीआई, ईडी और एनसीबी जांच कर रही है. सीबीआई ने इस मामले में कई लोगों से पूछताछ की है और उनके बयान दर्ज किए हैं.

ये भी पढ़ें-

क्या टूट जाएगी रैपर बादशाह की शादी? कई महीनों से रह रहे हैं पत्नी जैस्मीन से अलग

Taarak Mehta ka Ooltah Chashma: एक एपिसोड से इतना कमाते हैं गोकुलधाम सोसायटी के ‘आत्माराम भिड़े’, जानकार हो जाएंगे हैरान

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*