शिवपाल यादव ने यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर फूंका बिगुल, बोले- सपा के साथ विलय करने का समय गया

मेरठ: क्रांति धरा मेरठ के सिवालखास में शिवपाल यादव ने 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर बिगुल फूंक दिया है. शिवपाल ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का पहला प्रत्याशी मेरठ के सिवालखास विधानसभा से घोषित कर दिया है. यादव ने मेरठ में जनसभा करते हुए कहा कि सपा के साथ विलय करने का समय गया, अब जिसे प्रसपा के साथ गठबंधन करना है वो बात करे.

चुनाव अभियान की शुरुआत

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में चाचा-भतीजे यानी शिवपाल यादव और अखिलेश यादव की पार्टी में विलय होने की संभावनाएं अब समाप्त होती जा रही हैं. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव सोमवार को पश्चिमी यूपी से अपने चुनाव अभियान की शुरुआत कर दी. कृषि कानूनों के विरोध और किसानों के समर्थन में शिवपाल मेरठ के सिवालखास के सिवाल हाईस्कूल मैदान में जनसभा को संबोधित किया.

जिसको गठबंधन करना है वो आए

शिवपाल यादव को मेरठ में रैली की इजाजत काफी मशक्कत के बाद मिली थी और रैली में कोरोना गाइडलाइन्स की जमकर धज्जियां भी उड़ाई गईं. इस दौरान शिवपाल ने अखिलेश के साथ विलय होने की अटकलों पर कहा कि वो समय अब निकल चुका है. अब प्रगतिशील समाजवादी पार्टी से जिसको गठबंधन करना है वो आए और बात करे.

गैर भाजपावाद का दिया नारा

शिवपाल ने गैर भाजपावाद का नारा देते हुए सिवालखास पर अपना पहला उम्मीदवार अमित जानी के रूप में घोषित किया. जनसभा को संबोधित करते हुए शिवपाल यादव ने कृषि कानून को किसान विरोधी करार दिया. उन्होंने कहा है कि बीजेपी सरकार ने उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए काले कानून बनाए हैं. उन्होंने कहा है कि अगर उनकी पार्टी की सरकार आती है तो वो ऐसा कानून बनाएंगे जिससे प्रत्येक परिवार के एक युवक को सरकारी नौकरी दी जा सके.

ये भी पढ़ें:

2022 चुनाव: यूपी में AAP की आमद से पहले सियासी नफा-नुकसान की चर्चा शुरू

फिल्म की शूटिंग के लिए आगरा में लगा सितारों का जमावड़ा, ताजमहल में सारा अली खान के साथ ‘अतरंगी’ हुए अक्षय कुमार

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*