छपराः मंडल कारा में कैदियों को लगाया जा रहा कोरोना का टीका, जेल प्रबंधन ने स्वास्थ्य विभाग को दी सूची

छपराः कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए मंडल कारा छपरा में कैदियों को टीका लगाने की शुरुआत कर दी गई है. शुक्रवार को जिलाधिकारी डॉ. निलेश रामचंद्र देवरे के निर्देश पर मंडल कारा छपरा में बंद कैदियों को टीका लगाया जा रहा है. कैदियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई है.

मंडल कारा में 45 वर्ष और उससे ऊपर उम्र के कैदियों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा रही है. स्वास्थ्य विभाग की टीम को प्रतिनियुक्ति किया गया. जेल के अंदर टीकाकरण केंद्र बनाया गया है. जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग बंदियों की जांच के बाद टीका लगा रहा है.

बताया गया कि जिस तरह से कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है इसे रोकना बड़ी चुनौती है. इसी को देखते हुए कैदियों को भी टीका लगाया जा रहा है. टीका लेने के बाद कोरोना संक्रमण होने का खतरा कम हो जाता है. टीका से शरीर में एंटीबॉडी तैयार होती है जिससे संक्रमण होने की आशंका तो कम रहती ही है साथ ही अगर संक्रमण हो भी जाए तो गंभीर स्थिति तक पहुंचने की स्थिति नहीं होती है.

जिलाधिकारी डॉ. निलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि सभी लाभार्थियों को दोनों डोज लेना आवश्यक है. संक्रमण से बचाव के लिए कोविड-19 का टीका एक बड़ा हथियार साबित हो रहा है. वैक्सीन की दोनों डोज लेने के चार सप्ताह बाद दूसरी डोज लेनी है. इससे शरीर में रोग-प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है.

मंडल कारा में लगभग 500 कैदियों को लगाया जाना है टीका 

जेल अधीक्षक मनोज कुमार सिन्हा कहा कि छपरा लगभग 500 बंदियों को टीका दिया जाना है. टीकाकरण के लिए सरकार को जेल आईडी उपलब्ध कराई गई है. इसी के आधार पर टीकाकरण किया जा रहा है. करीब 200 कैदियों के पास आधार कार्ड उपलब्ध है. जिसके पास आधार कार्ड नहीं है उनका जेल आईडी के माध्यम से टीकाकरण किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें- 

बिहारः कोरोना से ‘जंग’ लड़ने को पटना पहुंची सेना की टीम, ESIC बिहटा में 100 बेड पर शुरू होगा इलाज

बिहारः लॉकडाउन पर राजनीति ‘अनलॉक’, ललन सिंह ने कहा- लालू यादव के रास्ते पर नहीं चलें तेजस्वी

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*