AMU शताब्दी समारोह में पीएम मोदी का संबोधन, छात्रों का ऐलान- नहीं करेंगे प्रदर्शन

अलीगढ़. अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में आज शताब्दी समारोह मनाया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर आयोजित ऑनलाइन समारोह में शिरकत की. मोदी अभी कार्यक्रम को संबोधित कर रहे हैं. इस दौरान उन्होंने कहा कि एएमयू की दीवारों में देश का इतिहास है, यहां से पढ़ने वाले छात्र दुनिया में देश का नाम रोशन कर रहे हैं. यहां से निकले छात्रों से कई बार विदेश में मुलाकात हो चुकी है, जो हमेशा हंसी-मजाक और शेर-ओ-शायरी के अंदाज में बात करते हैं.

एएमयू के छात्र नहीं करेंगे प्रदर्शन

उधर, यूनिवर्सिटी के छात्रों ने पीएम मोदी के संबोधन का विरोध नहीं करने का ऐलान किया है. दरअसल, पीएम मोदी के संबोधन को लेकर विवाद शुरू हो गया था. कहा जा रहा था कि मोदी के संबोधन के दौरान कुछ छात्र और शिक्षक प्रदर्शन कर सकते हैं.

शास्त्री के बाद एएमयू के कार्यक्रम में शामिल होने वाले मोदी पहले पीएम

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिवंगत लाल बहादुर शास्त्री के बाद एएमयू के किसी भी समारोह में शामिल होने वाले पहले प्रधानमंत्री हैं. साल 1964 में तत्कालीन प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने दीक्षांत समारोह को संबोधित किया था.

1920 में बना अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय

गौरतलब है कि मुहम्मद एंग्लो-ओरिएंटल कॉलेज 1 दिसंबर 1920 को राजपत्र अधिसूचना के बाद अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय बन गया था. उसी साल 17 दिसंबर को एएमयू का औपचारिक रूप से एक विश्वविद्यालय के रूप में उद्घाटन किया गया था. 17 दिसंबर को तत्कालीन कुलपति मुहम्मद अली मुहम्मद खान राजा महमूदाबाद ने इस विश्वविद्यालय का उद्घाटन किया था.

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*