Garuda Purana: इन 5 कामों को करने से व्यक्ति रहेगा परेशान, पढ़ें गरुड़ पुराण में वर्णित मान्यता

Garuda Purana: हिंदू धर्म ग्रंथों में 18 पुराणों का वर्णन किया गया है. इनमें गरुड़ पुराण का विशेष महत्त्व है. यह पुराण भगवान विष्णु को समर्पित है. इसमें भगवान विष्णु की भक्ति का वर्णन किया गया है. शास्त्रों के अनुसार गरुड़ पुराण व्यक्ति की मृत्यु के बाद पढ़ा जाता है. इस गरुड़ पुराण में व्यक्ति के जीवन से जुड़ी कई बातों का उल्लेख किया गया. इसमें बताया गया है कि व्यक्ति की कुछ गलतियां उनके सौभाग्य को दुर्भाग्य में बदल देती है. आइये जानें व्यक्ति के वे कौन से कार्य हैं जिनको करने से वह खुद परेशानियों में पड़ जाता है.

करें धन पर घमंड: गरुड़ पुराण के मुताबिक़,  व्यक्ति को अपने धन पर घमंड नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से व्यक्ति के अंदर अंहकार का जन्म होता है इससे उसकी बौद्धिक क्षमता कम होती जाती है. और वह दूसरों का अपमान करने लगता है. किसी भी व्यक्ति को नीचा दिखाना या अपमान करना गरुड़ पुराण में पाप बताया गया है. गरुड़ पुराण के अनुसार, धन पर घमंड करने वाले व्यक्ति से लक्ष्मी नाराज हो जाती है. और ऐसे लोगों का धन नष्ट होने लगता है.  

लालच करना: गरुड़ पुराण के अनुसार, दूसरे का धन देखकर लालच करने वाला व्यक्ति का जीवन कभी सुखी नहीं रह सकता है. धन का लालच करना या दूसरों के धन को प्राप्त करने की कोशिश करना व्यक्ति को इस जीवन के अलावा अगले जीवन में भी संतुष्ट नहीं करता है.

दूसरों को अपमानित करना: गरुड़ पुराण में कहा गया है कि दूसरों को नीचा दिखाना और अपमानित करना सबसे बड़ा पाप है. इसमें कहा गया है कि निंदा करते समय व्यक्ति बहुत खुश होता है परन्तु वास्तव में वह यह करके अपन समय बर्बाद करता है. दूसरों को नीचा दिखाने वाला व्यक्ति कभी खुश नहीं रह सकता है.

रात में दही खाना: गरुड़ पुराण में रात को दही खाने या उसका किसी रूप में सेवन न करने के लिए कहा गया है.  इसके अनुसार रात में दही का सेवन करने से स्वास्थ्य गिरता है. व्यक्ति को शारीरिक कष्ट होता है.  

गंदे वस्त्र धारण करना: गरुड़ पुराण में गंदे वस्त्र पहने के लिए मना किया गया है. इसमें कहा गया है कि व्यक्ति को हमेशा साफ़-सुथरा कपड़ा पहनना चाहिए. गंदे कपडे पहनने से  मां लक्ष्मी का आशीर्वाद कभी नहीं मिलता. गंदे कपड़े को दरिद्रता का प्रतीक माना गया है.  

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*