शाहबुद्दीन के समर्थकों ने लालू यादव और तेजस्वी के खिलाफ खोला मोर्चा, पुतला दहन कर जताया विरोध

सिवान: बिहार के सिवान संसदीय क्षेत्र के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के निधन के बाद आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की ओर से जो व्यवहार किया गया, उससे शहाबुद्दीन साहब के समर्थकों में काफी नाराजगी है. तेजस्वी यादव और लालू यादव के खिलाफ उनका विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है. सिवान में जगह-जगह पर उनके पुतले जलाए जा रहे हैं. 

पूरे लालू परिवार के खिलाफ लगाए नारे

इसी क्रम में सोमवार को सिवान के बड़हरिया प्रखंड स्थित लकड़ी दरगाह के पास शहाबुद्दीन के समर्थकों ने लालू यादव और तेजस्वी यादव मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए उनका पुतला दहन किया. साथ ही शहाबुद्दीन के समर्थकों उनके पुतले की चप्पलों से पिटाई भी की. इस दौरान समर्थकों ने पूरे लालू परिवार के खिलाफ नारे लगाए. साथ ही शहाबुद्दीन अमर रहे का भी नारा लगाया. 

किस बात को लेकर है विवाद ?

गौरतलब है कि बिहार के सिवान संसदीय क्षेत्र से सांसद रह चुके आरजेडी नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन का दिल्ली के डीडीयू अस्पताल में 8 अप्रैल की सुबह निधन हो गया था. कोरोना संक्रमित होने के बाद उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनका निधन हो गया था. कोरोना संक्रमित होने की वजह से उनके पार्थिव शरीर को बिहार नहीं लाया जा सका. 

इस बात को लेकर काफी विवाद हुआ. शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा साहब अकेले ही परिस्थिति से निपटने रहे. पार्टी के कोई नेता दिल्ली नहीं पहुंचे. इसी बात पर विवाद जारी है. सूत्रों की मानें तो शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब भी इस बात से काफी नाराज हैं. यही वजह है कि बिहार लौटने के बाद भी वे पार्टी के नेताओं से नहीं मिल रहीं हैं.

यह भी पढ़ें – 

बिहारः कोरोना में मानने को तैयार नहीं लोग, अब मुजफ्फरपुर में जमकर लगे बार-बालाओं के ठुमके

नीतीश कुमार के मंत्री ने तेजस्वी पर साधा निशाना, ट्वीट कर पूछा- क्या लालू जी की खून…

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*