कृषि कानूनों को लेकर अन्ना हज़ारे का केंद्र को अल्टीमेटम, कहा- किसानों के समर्थन में आखिरी आंदोलन करूंगा

मुंबई: सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने एबीपी न्यूज़ से बात करते हुए केंद्र सरकार को किसानों की मांग मानने को लेकर अल्टीमेटम दिया है. उन्होंने कहा है कि किसानों की मांग नहीं मानी गई तो वो उनके समर्थन में अपना आखिरी आंदोलन करेंगे. 83 साल के अन्ना हजारे ने पिछले गुरुवार को केंद्र सरकार को पत्र लिखकर किसानों की मांग मानने की अपील करते हुए कहा था कि अगर केंद्र सरकार किसानों की मांग नहीं मानेगी तो वह अपना जन आंदोलन शुरू करेंगे.

अन्ना हजारे के इस अल्टीमेटम के बाद केंद्र सरकार हरकत में आई और अन्ना को समझाने के लिए बीजेपी के राज्यसभा सांसद भागवत कराड और महाराष्ट्र विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष हरीभाऊ बागडे को उनके गांव रालेगणसिद्धि भेजा.

बीजेपी नेताओं से हुई बातचीत के दौरान अन्ना ने उन्हें किसानों को हो रही दिक्कत और उनकी मांगों से अवगत कराते हुए केंद्र सरकार से इस विषय में जल्द फैसला लेने की विनती की है. उधर बीजेपी नेताओं ने अन्ना को विश्वास दिलाया है कि वह जल्द उनके सवालों को केंद्र के मंत्रियों तक पहुंचा कर हल निकालने की कोशिश करेंगे. इसके लिए उन्होंने अन्ना से कुछ दिनों का वक्त भी मांगा है.

केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले चार हफ्ते से ज्यादा से हजारों किसान दिल्ली की अलग अलग सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं. किसानों की मांग है कि तीनों कानूनों को केंद्र सरकार वापस ले.

ये भी पढ़ें:

कोरोना काल में पार्टी कर रहे थे हाई प्रोफाइल सितारे, मुंबई पुलिस ने मारा छापा तो पीछे के दरवाजे से भागे 

कोरोना पॉजिटिव हुईं रकुलप्रीत सिंह की अपील- ‘मेरे टच में आए सभी लोग कोरोना टेस्ट कराएं’ 

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*